DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सदस्यों के भाषण के दौरान पानी की व्यवस्था की मांग

बिजली विभाग के 2012-13 के बजट पर विभागीय मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव के भाषण के दौरान उन्हें कई बार खांसी आयी, जिसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रतिपक्ष के नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी ने अध्यक्ष से सदन के भीतर पानी की व्यवस्था करने की मांग की।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा में अध्यक्ष से कहा संसद में भी सदस्यों और अध्यक्ष के भाषण के दौरान गला फंस न जाये। इसके लिए पानी की व्यवस्था रहती है। विधानसभा में भी पानी की व्यवस्था होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था पर किसी को एतराज नहीं होना चाहिए। भाषण के दौरान यादव का कई बार गला फंसा। सिद्दिकी और बिजली मंत्री यादव के बीच भाषण के दौरान कई बार टोका टोकी चलती रही।

इस पर नीतीश कुमार ने हास्य विनोद में कहा कि मैं बिजेंद्र जी को पानी पिलाने की बात नहीं कह रहा हूं। सिद्दिकी जी और बिजेंद्र बाबू दोनों अच्छे मित्र हैं। एक दूसरे के सवालों का जवाब देने में सक्षम है।

यादव ने अपने भाषण के दौरान बिहार की बिजली की बदहाल स्थिति को लेकर पूर्ववर्ती सरकार को कई बार कोसा। इसे लेकर सिद्दिकी उन्हें कई बार टोकते रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सदस्यों के भाषण के दौरान पानी की व्यवस्था की मांग