DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बजट ने लुधियाना के हौजरी उद्योग को निराश किया

पंजाब के औद्योगिक नगर लुधियाना के निटवियर एवं टेक्सटाइल उद्योग को केन्द्रीय बजट ने निराश किया है। फैडरेशन आफ निटवेयर एवं टेक्सटाइल एसोसिएशन के अध्यक्ष अजीत लाकड़ा ने शुक्रवार को यहां बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि केन्द्रीय बजट से उद्योग को काफी उम्मीद थी क्योंकि इस सेक्टर की विकास दर भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में घटी है।

रेडीमेड कपड़ों पर पहले ही केंद्रीय आबकारी कर दस प्रतिशत लगाया हुआ था और आज के बजट में इसमें दो प्रतिशत की और वृद्धि होने से उद्योग की कमर टूट गई है। उन्होंने कहा कि हौजरी सेक्टर में कम से कम दस लाख लोग अपने परिवारों का भरण पोषण कर रहे हैं।

यदि केन्द्र का यही रवैया रहा तो खराब हालत को देखते हुए लोग बेरोजगार हो जाएंगे। लाकड़ा ने आग्रह किया कि पंजाब का कपड़ा उद्योग बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है। उद्योग की इस समस्या को देखते हुए बजट में निटवियर उद्योग से एक्साइज ड्यूटी हटाई जानी चाहिए और जी एस टी लागू किया जाए। यदि उनकी यह मांग हीं मानी गई तो उन्हें सड़कों पर उतरना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि बैंक के ब्याज दरों में कटौती न होने से भी उद्योग पर बुरा असर पड़ेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बजट ने लुधियाना के हौजरी उद्योग को निराश किया