DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुरजीत सिंह बरनाला के बेटे की कंपनी पर छापे

तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल सुरजीत सिंह बरनाला के बेटे की कंपनी में राज्य सतर्कता विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को छापेमारी की। भ्रष्टाचार के मामले में अन्ना विश्वविद्यालय के एक पूर्व कुलपति सहित कुछ अन्य कर्मचारियों के परिसरों पर भी छापेमारी की गयी है। विश्वविद्यालय के लिए उपकरण की खरीद में अनियमितता के आरोपों पर यह छापा मारा गया।   

सतर्कता एवं भ्रष्टाचार-निरोधक निदेशालय के अधिकारियों ने मेसर्स बरनास इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड के परिसरों की तलाशी ली। पूर्व राज्यपाल के पुत्र जसजीत सिंह बरनाला इस कंपनी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक हैं।

निदेशालय की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि अधिकारियों को सूचना मिली थी कि अन्ना विश्वविद्यालय के कुछ अधिकारियों ने बरनाला के पुत्र की चेन्नई स्थित कंपनी के साथ मिलकर उपकरणों की खरीद में अनियमितता की। विज्ञप्ति के मुताबिक, जिन लोगों के परिसरों में छोपमारी हुई उनमें अन्ना विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डी विश्वनाथन, मेसर्स बरनास इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ पी एम नजीमुदीन और अन्ना विश्वविद्यालय में कंप्यूटर विज्ञान विभाग के प्रोफेसर पी नारायणसामी भी शामिल हैं।  इसके अलावा दो और लोगों के घरों पर छापेमारी की गयी।     

इन लोगों के अलावा विश्वविद्यालय के अज्ञात लोक सेवकों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत धोखाधड़ी, फर्जीवाड़े और आपराधिक साजिश के मामले दर्ज किए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुरजीत सिंह बरनाला के बेटे की कंपनी पर छापे