DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अव्यवस्थाओं के बीच आज से शुरू होंगी बोर्ड परीक्षा

 मथुरा। निज संवाददाता

बोर्ड परीक्षा शुरू होने से पूर्व दर्जनों परीक्षा केन्द्रों परीक्षार्थी की संख्या से कम प्रश्नपत्र उपलब्ध होने से सनसनी मच गयी। प्रधानाचार्यो द्वारा दी गयी सूचना के बाद तत्काल बोर्ड को फैक्स कर प्रश्नपत्र मंगाये गये हैं।यूपी बोर्ड की परीक्षा के लिये एक सप्ताह पूर्व सभी केन्द्रों को प्रश्नपत्रों का वितरण शुरू कर दिया गया। इसको उपलब्ध कराते वक्त जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय से सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को निर्देश दिये थे वह प्राप्त पैकेटों पर अंकित पेपर संख्या का परीक्षार्थियों की छात्र संख्या के हिसाब से मिलान कर जरूरत हो तो तत्काल डिमाण्ड भेजें ताकि समय से मंगा सकें, लेकिन जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय को बुधवार को दर्जन भर के न्द्रों पर कम प्रश्नपत्रों की सूचना मिली इससे विभागीय अधिकारियों में सनसनी मच गयी। परीक्षा के लिये कम समय रहने के चलते तत्काल यूपी बोर्ड फैक्स भेज कर डिमांड की है। बताते हैं कि आधा दर्जन विद्यालयों के तो दस-बीस परीक्षार्थियों के छूटे हुए नामों के बढ़कर आने से उनके लिये भी प्रश्नपत्र कम पड़े बताते हैं। इसकी पुष्टि करते हुए कार्यवाहक डीआईओएस राम स्वरूप राजपूत ने बताया कि कम प्रश्नपत्रों की सूचना फैक्स से भेज कर मांग की गयी है। देर रात तक प्रश्नपत्र प्राप्त हो जायेंगे। सचल दलों को अभी तक नहीं मिले वाहन यूपी बोर्ड परीक्षाओं का नकल विहीन व शांतिपूर्वक कराये जाने को लेकर शिक्षा विभाग ने भी आधा दर्जन सचल दल नियुक्त किये गये हैं, लेकिन इनके लिये गुरुवार की शाम तक वाहन उपलब्ध नहीं हो सके हैं।

इस बारे में कार्यवाहक डीआईओएस राम स्वरूप राजपूत ने बताया कि प्रशासन ने वाहनों को देने की स्वीकृति दे दी है। शुक्रवार को प्रात: वाहन उपलब्ध हो सकेंगे। पहले दिन हाईस्कूल गणित व इंटर भौतिक विज्ञान की होगी परीक्षा संसाधन के अभाव में टाट पट्टी पर दर्जनों केन्द्र पर हो सकती है परीक्षा मथुरा। निज संवाददाताशिक्षा की प्रदेश में सबसे बडी यूपी बोर्ड परीक्षा शुक्रवार से होने जा रही हैं। जिले में कई केन्द्रों पर धारण क्षमता से अधिक परीक्षार्थियों के हो के कारण टाट पट्टी पर बैठकर परीक्षा देने को मजबूर होने की आशंका है।

पहले दिन हाईस्कूल गणित व इंटर भौतिक विज्ञान की परीक्षा होगी। दो पालियों में शुरू होने वाली परीक्षाओं में नकल विहीन परीक्षा कराने के लिये पर्याप्त व्यवस्था की गयीं है। माध्यमिक शिक्षा परिषद की बोर्ड परीक्षा शुक्रवार से दो पालियों में शुरू होंगी। जिले में नकल विहीन परीक्षा कराने की प्रशासन ने पर्याप्त इंताजाताम किये हैं। वहीं शिक्षा विभाग ने भी छह सचल दल बनाये हैं। एक लाख सात हजार से अधिक परीक्षार्थियों के लिये बनाये गये 165 परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा होंगी। सूत्रों की माने तो इनमें कई दर्जन परीक्षा केन्द्रों पर धारण क्षमता से अधिक परीक्षार्थी होने तो कुछ पर संसाधनों की कमी होने के चलते परीक्षार्थियों को टाट-पट्टी पर परीक्षा देने को मजबूर होना पड़ सकता है। इन परीक्षाओं को लेकर जिला प्रशासन से लेकर शिक्षा विभाग चौकन्ना है।

नकल विहीन परीक्षा कराने के दावे भी किये जा रहे हैं, लेकिन यह तो पहले दिन परीक्षा होने के बाद ही पता चल सकेगा। बोर्ड परीक्षाओं को शांतिपूर्वक व नकल विहीन कराये जाने को लेकर प्रशासन ने भी पूरी ताकत झौंक दी है। इसके तहत जिला स्तरीय अधिकारियों को सुपर जोनल, जोनल, सेक्टर, स्टेटिक मजिस्ट्रेट के रूप में डय़ूटी पर लगाया गया है। दूसरी ओर अगर बोर्ड परीक्षाओं में पहले दिन शिक्षकों का भी टोटा होने की प्रबल आश्ांका है। इसका कारण बताया जा रहा है कि समय से परीक्षा डय़ूटी की सूचना, परिचय पत्र न मिलना माना जा रहा है। हालांकि इस बारे में डीआईओएस राम स्वरूप राजपूत ने बताया कि परीक्षा की तैयारी पूरी कर ली गयीं हैं। सभी शिक्षकों को समय से परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचने के निर्देश दे दिये गये हैं। जो अनुपस्थित रहेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ेगी। आधा घंटे पूर्व केन्द्रों पर पहुंच जायेंगे स्टेटिक-सेक्टर मजिस्ट्रेट मथुरा। शुक्रवार से जिले के 165 परीक्षा केन्द्रों पर बोर्ड परीक्षा शुरू हो रही हैं। पहले दिन से पर्याप्त कड़ाई करके नकल विहीन परीक्षा कराये जाने को लेकर प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। प्रभारी जिलाधिकारी व एडीएम वित्त एवं राजस्व मन मोहन चौधरी ने बताया कि परीक्षाओं को हर हाल में नकल विहीन कराया जायेगा। इसके लिये सभी संवेदनशील व अतिसंवदेशील केन्द्रों पर नियुक्त किये गये स्टैटिक मजिस्ट्रेट व सेक्टर मजिस्ट्रेट आधा घंटे पहले ही पहुंच जायेंगे। परीक्षा केन्द्र के अंदर परीक्षार्थियों को चैक कर के घुसाया जायेगा। इसके अलावा सुपर जोनल,जोनल मजिस्ट्रेट पर पुलिस सुरक्षा में लगे अधिकारियों का दल मोबाइलिंग करते रहेंगे।परीक्षा केन्द्रों पर निषेधाज्ञा लागू बोर्ड परीक्षा के चलते प्रशासन ने जिले भर में धारा-144 लागू कर दी गयी है। इसके तहत परींक्षा केन्द्र से दो सौ मीटर दूरी तक माइक, फोटो स्टेट मशीन संचालित नहीं होगी। इस परिधि में पांच या पांच से अधिक व्यक्ति एक साथ खड़े नहीं हो सकेंगे, मोबाइल लेकर भी नहीं घूमेंगे। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अव्यवस्थाओं के बीच आज से शुरू होंगी बोर्ड परीक्षा