DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अज्ञात शव की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया

सुल्तानपुरी में एक साल पहले मिले अज्ञात शव की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने मारे गए व्यक्ति की पहचान 45 वर्षीय सुंदर के रूप में की है और उसकी हत्या के आरोप में 24 वर्षीय किशन को गिरफ्तार किया है। रुपये के लेन-देन को लेकर हत्या को अंजाम दिया गया था।


पुलिस उपायुक्त भोला शंकर जायसवाल ने बताया कि सुल्तानपुरी के अंबेडकर पार्क में दो मार्च 2011 को एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिला था। काफी कोशिशों के बावजूद मरने वाले की पहचान नहीं हो सकी थी। कुछ समय पहले एक बार फिर सुल्तानपुरी एसीपी जसमीत सिंह की देखरेख में थानाध्यक्ष पूरण पंत और एसआई धीरेन्द्र ने मृतक की शिनाख्त के लिए प्रयास शुरू किए। पुलिस को पता चला कि घेवरा जे.जे कॉलोनी के कुछ मजदूर सुल्तानपुरी में काम करने आते थे।


पुलिस शव की तस्वीर लेकर जब उस कॉलोनी में लोगों के बीच पहुंची तो मृतक की पहचान सुंदर के रूप में हो गई। यह भी पता चला कि आखिरी बार उसे किशन नामक युवक के साथ देखा गया था। इस जानकारी पर पुलिस टीम ने किशन को पकड़ा। उसने बताया कि छह हजार रुपये के लेन-देन को लेकर उसका सुंदर से झगड़ा हुआ था। इसमें उसने भारी पत्थर से उसके सिर पर वार कर उसकी हत्या कर दी थी।


अवैध निर्माण, संपत्ति के गलत उपयोग और ठेके पर दिए काम में धांधली के खिलाफ कार्रवाई करने से नगर निगम अभियंता बिल्डर माफिया और दबंग ठेकेदारों का निशाना बन रहे हैं। 7 फरवरी को सिटी जोन के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर अंसार आलम पर बिल्डर माफियाओं ने हमला करवाया था। इसके बाद 15 मार्च, गुरुवार को नजफगढ़ और साउथ जोन में अभियंताओं पर हमले की घटना हो गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अज्ञात शव की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया