DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UPA सरकार को खतरे से तृणमूल का इंकार

तृणमूल कांग्रेस ने गुरुवार को इस बात से इनकार किया कि केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार को किसी तरह का खतरा है लेकिन इस बात पर जोर दिया कि रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी को जाना ही होगा।
    
तृणमूल संसदीय दल के नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा कि हम सरकार को पूरा समर्थन दे रहे हैं। उनसे पूछा गया था कि सरकार स्थिर है या उसे किसी तरह का खतरा है।
    
यह पूछे जाने पर कि क्या त्रिवेदी रेलमंत्री बने रहेंगे या नहीं, उन्होंने कहा कि त्रिवेदी एक व्यक्ति हैं। तृणमूल कांग्रेस की राय है कि यदि वे रेल बजट में बढ़ाए गए यात्री किराए को वापस नहीं लेते तो उन्हें रेल मंत्री पद पर नहीं रहना चाहिए।
    
उन्होंने कहा कि लेकिन आज सुबह हालात बदल गए हैं (उन्होंने संभवत: पार्टी नेता ममता बनर्जी की त्रिवेदी को हटाकर उनके स्थान पर जहाजरानी मंत्री मुकुल राय को रेल मंत्री बनाए जाने की मांग का उल्लेख करते हुए कहा)।
     
बंदोपाध्याय ने पलट कर पूछा क्या ऐसा हो सकता है कि प्रणव मुखर्जी प्रधानमंत्री और सोनिया गांधी से सलाह नहीं लें। कल पेश किए गए रेल बजट में दिए गए त्रिवेदी के प्रस्तावों से नाराजगी जताते हुए बनर्जी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को कल रात पत्र लिखकर उनसे मांग की है कि वे त्रिवेदी को रेल मंत्री पद से हटा कर उनकी जगह जहाजरानी मंत्री मुकुल राय को नियुक्त करें।
     
बंदोपाध्याय ने कहा कि पार्टी के सांसद आज प्रधानमंत्री से मुलाकात करेंगे और राष्ट्रपति के अभिभाषण में शामिल किए गए एनसीटीसी के मुद्दे पर अपनी पार्टी की आपत्ति जाहिर करेंगे।
     
पूछे जाने पर कि क्या तृणमूल राष्ट्रपति के अभिभाषण में एनसीटीसी मुद्दा शामिल किए जाने को लेकर भाजपा द्वारा लाए जाने वाले संशोधन का समर्थन करेगी क्योंकि इस बारे में उसका अपना संशोधन खारिज कर दिया गया है, उन्होंने कहा कि जब ऐसा होगा तब देखा जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UPA सरकार को खतरे से तृणमूल का इंकार