DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुछ उम्मीदें हुईं पूरी पर ज्यादा रहीं अधूरी

दिल्ली-एनसीआर के लोगों को रेल बजट से बहुत उम्मीदें थीं। इनमें से ज्यादातर पूरी नहीं हुई। हां, कुछ योजनाओं से उम्मीद जरूर बंधी है।

नई एक्सप्रेस ट्रेन: तीन नई ट्रेन शुरू करने की बात बजट में कही गई है। दिल्ली सराय रोहिल्ला-ऊधमपुर एसी एक्सप्रेस (हफ्ते में तीन बार)-जालंधर, अंबाला होते हुए, आनंदविहार-हल्दिया एक्सप्रेस (हफ्ते में एक बार)- मुगलसराय, पुरुलिया होते हुए और बांद्रा-दिल्ली सराय रोहिल्ला एक्सप्रेस (हफ्ते में एक बार)-पालमपुर, फुलेरा होते हुए।

डेमू: बजट में दिल्ली सराय रोहिल्ला-फारूखनगर (हफ्ते में छह बार) शुरू करने का प्रस्ताव है।

ट्रेनों का विस्तार: कुछ ट्रेनों का विस्तार किया गया है, जिससे यात्रियों को लाभ होगा। दिल्ली-जींद पैसेंजर एक्सप्रेस अब नरवाना तक जाएगी। दिल्ली-मुजफ्फरनगर डेमू को सहारनपुर तथा काठगोदाम-दिल्ली सराय रोहिल्ला एक्सप्रेस को जोधपुर तक बढ़ाया गया है। नई दिल्ली-लुधियाना शताब्दी एक्सप्रेस दो दिन मोगा भी जाएगी।

बढ़ी फ्रीक्वेंसी : चार ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी में इजाफा किया गया है। नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस- एक दिन के बजाय दो दिन चलेगी। दिल्ली सराय रोहिल्ला-बीकानेर सुपरफास्ट एक्सप्रेस तीन दिन के बजाए सात दिन चलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुछ उम्मीदें हुईं पूरी पर ज्यादा रहीं अधूरी