DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रावत नहीं पहुंचे संसद मनाने में जुटी कांग्रेस

उत्तराखंड में विजय बहुगुणा को मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर कांग्रेस में घमासान जारी है। पार्टी के वरिष्ठ नेता दिनभर नाराज केंद्रीय संसदीय राज्यमंत्री हरीश रावत और उनके समर्थक विधायकों को मनाने की कोशिश करते रहे। पर पार्टी नेतृत्व के फैसले के खिलाफ बगावत करने पर उतारू विधायक धरना देने की धमकी दे रहे हैं।

रावत ने कहा है कि पिछले 40 सालों से वह पार्टी में हैं। कांग्रेस आलाकमान अगर उन्हें बता देता कि मुख्यमंत्री पद के लिए उनके नाम पर विचार नहीं किया जा रहा है, तो वह पहले ही दौड़ से बाहर हो जाते। उन्होंने दोहराया कि उनकी वजह से उत्तराखंड में पार्टी को संकट का सामना नहीं करना पड़ेगा। रावत समर्थकों का दावा है कि उनके साथ विधायकों की संख्या बढ़कर 19 हो गई है। कई और विधायकों की उनके साथ आने की संभावना है।

कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद और दिग्विजय सिंह मनाने की कोशिशों में जुटे हुए हैं। हरीश रावत बुधवार को सुबह संसद जाने के लिए घर से निकलना चाहते थे, मगर घर पर मौजूद विधायकों और समर्थकों ने उन्हें बाहर जाने से रोक दिया। दूसरी तरफ, पार्टी प्रवक्ता राशिद अल्वी ने कहा कि विजय बहुगुणा अपना बहुमत साबित कर देंगे। इस बीच, बहुगुणा मंत्रिमंडल के गठन पर चर्चा करने दिल्ली पहुंच रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रावत नहीं पहुंचे संसद मनाने में जुटी कांग्रेस