DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिरन की खालों के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार

दुधवा टाइगर रिजर्व की टीम ने वयंजीवों के अंगों की तस्करी करने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके पास से हिरन की तीन खाले बरामद की हैं। इनके पास नेपाली करेंसी समेत नेपाली सिम और मोबाइल भी मिले हैं। जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि इनके तार सीमा पर नेपाल से जुड़े हो सकते हैं। इसके चलते दुधवा के डिप्टी डायरेक्टर गणेश भट्ट ने मोबाइल के नम्बरों को खंगालने के साथ ही मामले की गहनता से छानबीन शुरू कर दी है।दुधवा टाइगर रिजर्व के डिप्टी डायरेक्टर गणेश भट्ट ने मुखबिर की सूचना पर मैलानी रेंजर वीसी तिवारी और डिप्टी रेंजर तुलसीराम दोहरे के नेतृत्व में टीम का गठन करके वयंजीवों के अंगों का अवैध कारोबार करने वाले तस्करों को पकड़ने का निर्देश दिया। जिसपर कार्यवाही करते हुए टीम ने अपना जाल फैलाकर बमनगर के आसपास नाकाबंदी की। बुधवार को टीम ने तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार कर उनके पास झाेला में से हिरन की तीन खालें बरामद करने में सफलता हासिल कर ली। इनके पास से तलाशी के दौरान नेपाली सिम वाला मोबाइल और 160 रूपए नेपाली करेंसी समेत नेपाली भाषा के तमाम कागजात भी मिले हैं। पूछताछ में पकड़े गए लोगों ने अपना नाम सीताराम पुत्र रामकिशुन ग्राम बमनगर, रामकिशुन पुत्र सुब्बाराम ग्राम कृष्णानगर, शीतला प्रसाद ग्राम जगदेवपुर भीरा का निवासी होना बताया है। यह तीनों इन खालों को 20 हजार रुपए में हुए सौदा के अनुसार निघासन बेचने जा रहे थे। नेपाली सिम और कागज आदि मिलने से यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि इन लोगों के तार नेपाल के वयंजीवों के आगे के तस्करों से भी जुड़े हो सकते हैं इसको लेकर गहनता से छानबीन करने के साथ ही इनके द्वारा की गई निशानदेही पर निघासन वाले व्यक्ति की भी खोजबीन शुरू कर दी गई है। दुधवा टाइगर रिजर्व के डिप्टी डायरेक्टर गणेश भट्ट ने बताया कि पकड़े गए अभियुक्तों से पूछताछ कर इनके नेटवर्क का पता लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मोबाइल में मिले नम्बरों की भी जांच पड़ताल शुरू कर दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हिरन की खालों के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार