DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस को भरोसा मजबूत होगी उत्तराखंड सरकार

उत्तराखंड का मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज केंद्रीय मंत्री हरीश रावत के रुख में आई नरमी को देखते हुए कांग्रेस ने विश्वास जताया है कि राज्य की नई सरकार निर्बाध रुप से काम करेगी।

कांग्रेस प्रवक्ता राशिद अल्वी ने विजय बहुगुणा को मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर पार्टी की उत्तराखंड इकाई में विद्रोह की स्थिति उत्पन्न हो जाने को सामान्य बात बताते हुए कहा कि पार्टी के अंदर छोटी-मोटी बात हो जाती है जिसे सुलझा लिया जाएगा। उन्होंने मीडिया पर बात का बतंगड़ बताने का आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी में विद्रोह जैसी कोई बात नहीं है।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में बहुगुणा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है तथा राज्य में सबकुछ सामान्य रहेगा। उनके नेतृत्व में पार्टी की सरकार ठीक ढंग से काम करेगी और भाजपा सरकार के कुशासन से पिछले पांच वर्ष से हलकान जनता की परेशानियों को हल करेगी।

पार्टी हाईकमान के फैसले से नाराज रावत के पिछले दो दिन से संसद नहीं आने की ओर ध्यान दिलाए जाने पर उन्होंने कहा कि वह संसद भी आएंगे और अपना काम भी करेंगे। उल्लेखनीय है कि रावत ने अलग पार्टी बनाने या भाजपा से हाथ मिलाने की अटकलों को कल खारिज करते हुए कहा कि वह पार्टी में रहकर ही अपनी बात रखेंगे। ऐसी अटकलें हैं कि रावत की नाराजगी दूर करने के लिए उन्हें केंद्र में कैबिनेट मंत्री बनाया जा सकता है तथा उनके समर्थकों को उत्तराखंड की सरकार में अहम स्थान दिया जा सकता है।

अल्वी ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा कल दिए गए रात्रिभोज में तृण मूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी के नहीं आने को ज्यादा तूल नहीं दिया। कांग्रेस प्रवक्ता ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि हो सकता है कि व्यस्तता के चलते वह नहीं आ पाई हों। उन्होंने कहा कि कृषि मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार भी इसमें नहीं आए थे। उल्लेखनीय है कि तृण मूल कांग्रेस ने पहली बार लोकसभा की सदस्य बनी रत्ना डे को रात्रिभोज में भेजा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस को भरोसा मजबूत होगी उत्तराखंड सरकार