DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कन्नौज में अखिलेश की जगह ले सकती हैं डिंपल

कन्नौज से समाजवादी पार्टी (सपा) सांसद अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठने के बाद उन्हें लोकसभा की सदस्यता छोड़नी पड़ेगी। ऐसे में अब सबकी नजरें इस पर है कि कन्नौज में उनका उत्तराधिकारी कौन होगा।

कहा जा रहा है कि संसद के बजट सत्र में हिस्सा लेने दिल्ली गए भावी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शपथ ग्रहण से पहले कन्नौज से अपनी लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा दे देंगे। विधायक दल के नेता चुने गए अखिलेश को 15 मार्च को लखनऊ में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेनी है। अब चर्चा है कि अखिलेश के इस्तीफे के बाद समाजवादी परिवार की बहू डिंपल यादव के लिए राजनीति के दरवाजे फिर से खुल सकते हैं।

सपा सूत्रों के मुताबिक पूरा मुलायम सिंह यादव परिवार डिंपल को कन्नौज से अखिलेश का उत्तराधिकारी बनाने के लिए मन बना चुका है। केवल अखिलेश की मुहर लगनी बाकी है। उधर, कन्नौज के सपा नेताओं ने डिंपल को अखिलेश के इस्तीफे के बाद अपनी पहली पसंद बताया है।

कन्नौज के एक स्थानीय सपा नेता ने नाम न जाहिर करने करने की शर्त पर बताया कि अखिलेश जी ने कन्नौज से राजनीति की शुरुआत की। उन्होंने सपा को प्रचंड बहुमत दिलाकर देश-विदेश में अपनी काबिलियत का झंडा गाड़ा है। हम सभी और पूरा कन्नौज यही चाहता है कि हमारे लोकप्रिय सांसद के इस्तीफे के बाद उनकी पत्नी को ही पार्टी यहां से चुनाव में उतारे।

इस संबंध में हमने अपनी बात सपा प्रमुख तक पहुंचा दी है। हालांकि नेता जी जो भी फैसला करेंगे वह हम सबको मान्य होगा।

यदि ऐसा होता है तो यह दूसरा मौका होगा जब डिंपल यादव अपने पति की छोड़ी हुई सीट पर लोकसभा का चुनाव लड़ेंगी। इससे पहले 2009 के लोकसभा चुनाव में दो सीटों-कन्नौज और फिरोजाबाद से जीत दर्ज करने के बाद अखिलेश ने फिरोजाबाद सीट छोड़ दी थी और पार्टी ने उनकी पत्नी डिंपल को फिरोजाबाद से उपचुनाव में उतारा था लेकिन वह कांग्रेस उम्मीदवार राज बब्बर से हार गई थीं।

सूत्रों के मुताबिक सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने अपने छोटे भाई शिवपाल यादव को इस सीट से उपचुनाव लड़कर राष्ट्रीय राजनीति में आने का प्रस्ताव दिया था लेकिन वह इसके लिए तैयार नहीं हुए। अब डिंपल के राजनीति में दोबारा प्रवेश करने का रास्ता खुल गया है।

सपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि अभी तो अखिलेश ने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा ही नहीं दिया है। उनका इस्तीफा होने दीजिए। कन्नौज सीट पर उनकी पत्नी डिंपल उत्तराधिकारी होंगी या कोई और नेता, निर्णय बहुत जल्द सामने आ जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कन्नौज में अखिलेश की जगह ले सकती हैं डिंपल