DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहली अप्रैल से लागू होगी नई पेंशन योजना

बरेली। कार्यालय संवाददाता। पेंशन निदेशालय ने पहली अप्रैल से लागू होने जा रही नई पेंशन योजना को लागू करने की तैयारी शुरू कर दी है। मंडल के सभी आहरण वितरण अफसरों को विकास भवन में बैठक बुलाकर प्रत्येक कर्मचारी का परमानेंट रिटायरमेंट एकाउंट नंबर हासिल करने का निर्देश दिया गया।

अप्रैल 2005 और इसके बाद भर्ती कर्मचारी नई पेंशन योजना के दायरे में आएंगे। सरकारी नौकरी में पेंशन बड़ा आकर्षण होता है। एक अप्रैल 2005 के बाद भर्ती हुए राज्य सरकार के कर्मचारी इस सुविधा से वंचित थे। कर्मचारी संगठनों की ओर से इस बारे में मांग उठाई जा रही थी।

सरकार ने इसे मानते हुए पहली अप्रैल 2012 से नई पेंशन योजना लागू करने का फैसला लिया। यानि अगले महीने से मिलने वाली तन्ख्वाह से पेंशन की किस्त कटेगी। सरकार ने एनएसडीएल, एसबीआई आदि को योजना में भागीदार बनाया है। नई पेंशन योजना के बारे में जानकारी देने के लिए मंगलवार को निदेशक पेंशन हेमंत सक्सेना बरेली पहुंचे।

विकास भवन के सभागार में उन्होंने मंडल के सभी आहरण वितरण अधिकारियों की बैठक बुलाकर योजना की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अप्रैल 2005 और इसके बाद भर्ती हुए सभी कर्मचारियों को अप्रैल का वेतन तभी मिल पाएगा, जब उन्होंने परमानेंट रिटायरमेंट एकाउंट नंबर हासिल कर लिया हो।

आहरण वितरण अधिकारी निर्धारित प्रारूप पर कर्मचारियों के फॉर्म भरवाकर ट्रेजरी में जमा करवा दें। हर कर्मचारी का नंबर एनएसडीएल को जारी करना है। नई पेंशन योजना के दायरे में आने वाले कर्मचारियों की सबसे अधिक तादाद पुलिस और पंचायत राज विभाग में है।

इन दोनों विभागों के अफसरों को अभी से जुटना होगा, वर्ना कर्मचारियों की पेंशन लटक सकती है। बैठक में अपर निदेशक पेंशन मदनलाल, मुख्य कोषाधिकारी रणवीर सिंह यादव, कोषाधिकारी अमितोष श्रीवास्ताव, रमेश चंद्र सक्सेना, अखलाक अहमद, उमेश कुमार आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पहली अप्रैल से लागू होगी नई पेंशन योजना