DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भत्ते की आस में बेरोजगारों का सैलाब

भत्ते की आस में सोमवार को सेवायोजन कार्यालय में बेरोजगारों का सैलाब रजिस्ट्रेशन कराने के लिए उमड़ पड़ा। सोमवार को करीब पांच हजार युवक-युवतियों ने रजिस्ट्रेशन कराए। इसके पीछे मुख्य कारण सपा द्वारा बेरोजगारों के लिए किया गया वादा मुख्य वजह रही। ऐसे में सवाल यह है कि प्रदेश सरकार अपना वादा पूरा करती है या नहीं।

समाजवादी पार्टी द्वारा किया गया बेरोजगारों को भत्ते और लैपटॉप देने का वायदा अब रंग दिखा रहा है। चुनाव नतीजे घोषित होने और होली की छुट्टियों के बाद जब सोमवार को सेवायोजन कार्यालय खुला तो सुबह 10 बजे ही करीब तीन हजार बेरोजगार रजिस्ट्रेशन के लिए पहुंच गए।

उस समय दो काउंटर पर रजिस्ट्रेशन हो रहा था लेकिन, जैसे-जैसे धीरे-धीरे युवक-युवतियों की संख्या बढ़ने लगी और करीब 11 बजे तक चार हजार बेरोजगारों का जमावड़ा लग गया। भीड़ के आगे व्यवस्था भी बौनी साबित होने लगी।

भीड़ की सूचना पाकर राउंड पर आए क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी वाईएन लाल ने जब आलम देखा तो वे आवाक रह गए और तुरंत कर्मचारियों को बुलाकर चारों ओर के गेट बंद कराके आठ काउंटर पर रजिस्ट्रेशन के निर्देश दिए।

धीरे-धीरे युवक-युवतियों की संख्या पांच हजार को पार कर गई और अब आठ काउंटर भी कम पड़ने लगे। हाल यह था कि कार्यालय के बाहर तक लम्बी कतारें लग गई थीं। लगातार बढ़ती संख्या को देखकर कर्मचारी और अधिकारियों के हाथ-पांव भी फूल रह थे कि कहीं कोई गड़बड़ न हो जाए।

इसके बाद क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी ने सिविल लाइन थाने में फोन किया और हालात की जानकारी दी। थोड़ी देर में कार्यालय पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया। क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी वाईएन लाल ने बताया कि करीब सोमवार को पांच हजार से अधिक युवक-युवतियों ने रजिस्ट्रेशन कराए।

पैर रखने तक की नहीं थी जगह
सूनसान पड़े रहने वाले कार्यालय में सोमवार को पैर रखने तक को जगह नहीं मिल रही थी। जो भी इस कार्यालय की ओर देख रहा था तो आवाक रह जा रहा था। खास बात यह रही कि भत्ते के लिए सेवायोजन कार्यालय में उमड़ी बेरोजगारों की भीड़ में युवक और युवतियां की संख्या लगभग बराबर थी। 

सर! फार्म भी ब्लैक हो गया
रजिस्ट्रेशन कराने आए बेरोजगारों को तो रजिस्ट्रेशन तो दूर फार्म भी हाथ नहीं लगा। कुछ युवकों ने तो आरोप लगाया कि फार्म ब्लैक में पचास रुपए का बेचा जा रहा है। कुछ डीएम से शिकायत की बात कहकर निकल गए।

आनलाइन भी करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन
आनलाइन भी रजिस्ट्रेशन प्रकिया शुरू की जा चुकी है लेकिन, उसको सत्यापित कराने के लिए एक बार सेवायोजन कार्यालय आना पड़ेगा। इसके लिए भी भीड़ उमड़ रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भत्ते की आस में बेरोजगारों का सैलाब