DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती अनर्गल प्रलाप बंद करें : सपा

समाजवादी पार्टी ने बसपा मुखिया मायावती पर पलटवार करते हुए कहा है कि उन्होंने विधानसभा चुनावों के परिणामों से कोई सबक नहीं लिया है। प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि प्रदेश की जनता ने उन्हें सत्ता से हटा दिया लेकिन जनता के इस निर्णय को वह स्वीकारने को तैयार नहीं है। उन्होंने बसपा मुखिया मायावती को सलाह दी है कि उन्हें ऐसा अनर्गल प्रलाप बन्द करके लोकतंत्र का सम्मान करना सीखना चाहिए।

बसपा मुखिया ने मंगलवार को कहा कि सपा के आते ही प्रदेश में गुण्डाराज शुरू हो गया है और इसके खिलाफ वह राज्यसभा में आवाज उठाएंगी। उनके इस बयान पर श्री चौधरी ने कहा कि वह यह भूल रही हैं कि बसपा के शासनकाल में दलितों का सबसे ज्यादा उत्पीड़न हुआ है। दजर्नभर से ज्यादा मंत्री अपहरण, हत्या, बलात्कार के अभियोगों में जेल में बंद हैं।

चौधरी ने कहा कि बसपा नेता वह भूल रही हैं कि लोकतंत्र लोकराज से चलता है। लेकिन मुख्यमंत्री रहते हुए मायावती ने इसकी लगातार अनदेखी की। न तो वह किसी पीड़ित से मिलीं, न ही लोगों के दुखदर्द में शामिल हुईं। लोगों की भावनाओं को समझते हुए मनोनीत मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यह बात साफ कर दी है कि सपा के राज में अपराधियों की जगह सिर्फ जेल में होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मायावती अनर्गल प्रलाप बंद करें : सपा