DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रेन में फौजी परिवार को दबंगों ने बेरहमी से पीटा

इलाहाबाद जा रही फोर एफपी पैसेंजर ट्रेन में रविवार की रात दबंगों ने सफर कर रहे एक फौजी के परिवार को दबंगों ने बेरहमी से पीटा। उन लोगों ने फौजी के भाई को लहुलूहान कर दिया। मां, पत्नी व बच्चाे को नहीं बख्शा। इस घटना से कोच में हंगामा मच गया। यात्राियों ने हमलावरों का पकड़ना चाहा लेकिन वे हिम्मत नहीं जुटा सके। इस चक्कर में पैसेंजर बीस मिनट तक खड़ी रही।

इलाहाबाद से प्रयाग जा रही पैसेंजर में झगड़े की शुरूआत सुल्तानपुर से हुई। यहां पर दो छात्र ट्रेन में चढ़े। ट्रेन में लिखा था आरपीएफ के लिए आरक्षित। इसी कोच में इलाहाबाद के रहने वाले संतोष जो कि फौज में हैं अपनी पत्नी, मां व भाई अमिताभ के साथ सफर रहे थे। दोनो लड़के इनकी सीट के पास पहुंचे और बैठने चाहा।

मगर फौजी संतोष ने मना कर दिया। इसी बात पर कुछ कहा सुनी हो गई। दोनो छात्र वहां से उठकर आगे निकल गए। ट्रेन चिलबिला स्टेशन पहुंची तो वे दोनो लड़के अपने कई साथियों के साथ दोबारा वहां आए और बैठे संतोष के भाई अमिताभ पर टूट पड़े। बचाने गई मां का हाथ उमेठ दिया।

झगड़ा होता देख संतोष की नींद खुल गई। वह और उसकी पत्नी जिसके गोद में बच्चा था बचाने आए तो उन्हें भी पीटा गया। बच्चे का सिर खिड़की से टकरा गया। पल भर में दबंगों ने अपना काम डाला और भाग निकले।

हालांकि यात्रियों ने पकड़ना चाहा लेकिन हमलावरों की संख्या देख उनकी हिम्मत जवाब दे गई। यात्रियों के अनुसार हमलावर स्थानीय चिलबिला के थे। उधर संतोष पुलिस की मदद के लिए चिल्लाता रहा। ट्रेन प्रतापगढ़ पहुंची तो उसने इसकी सूचना जीआरपी को दी।

इस बारे में एसओ यूपी सिंह का कहना है कि ट्रेन में मारपीट की सूचना मिली थी। सिपाहियों को भेजा गया था मगर कोई मिला नहीं और न हीं किसी ने इसकी तहरीर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ट्रेन में फौजी परिवार को दबंगों ने बेरहमी से पीटा