DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब ट्रिपलआईटी से कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में एमटेक

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (ट्रिपलआईटी) से अब कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में भी एमटेक किया जा सकेगा। अभी तक संस्थान में तीन स्ट्रीम के सात ब्रांच से एमटेक हो सकता था। अब ब्रांच की संख्या आठ हो गई है।

कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग ब्रांच को इलेक्ट्रॉनिक एण्ड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग स्ट्रीम के तहत शुरू किया गया है। संस्थान में सत्र 2012-13 के लिए एमटेक दाखिले की प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो गई। आवेदन ऑन लाइन और ऑफ लाइन दोनों माध्यम से होगा। इसकी अंतिम तिथि 15 अप्रैल तय की गई है।

एमटेक में चयन तीन चरणों में होगा। पहले चरण में 10 मई को लिखित परीक्षा होगी। इसी दिन लेब्रोटरी टेस्ट लिया जाएगा। इन दोनों में सफल अभ्यर्थियों का 11 मई को इंटरव्यू होगा। इसी दिन शाम को रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा।

अब तक ट्रिपलआईटी से इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी स्ट्रीम के तहत साफ्टवेयर इंजीनियरिंग (28 सीट), वायरलेस कम्यूनिकेशन एण्ड कम्प्यूटिंग (28 सीट), इंटेलिजेन्स सिस्टम (19 सीट), रोबोटिक्स (19 सीट) तथा ह्यूमन कम्प्यूटर इंटरैक्शन (21 सीट) में एमटेक किया जा सकता था। इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी स्ट्रीम के तहत बायोइनफार्मेटिक्स (28 सीट) में एमटेक की सुविधा थी जबकि इलेक्ट्रानिक्स एण्ड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में सिर्फ माइक्रोइलेक्ट्रानिक्स (21 सीट) ब्रांच थी।

अब इसी स्ट्रीम में एमटेक के लिए कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग ब्रांच शुरू की गई है। इस ब्रांच में भी 21 सीट होंगी। माइक्रोइलेक्ट्रानिक्स की तरह कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए भी शैक्षिक अर्हता बीटेक इन इलेक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग/इलेक्ट्रानिक्स एण्ड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग/इलेक्ट्रानिक इंस्ट्रुमेन्टेशन इंजीनियरिंग/इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग/एमएससी इन फिजिक्स तथा एमएससी इन इलेक्ट्रानिक्स रखी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब ट्रिपलआईटी से कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में एमटेक