DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

36 गौशालाओं की स्थिति दयनीय: मंत्री

बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री गिरीराज सिंह ने सोमवार को कहा कि राज्य में करीब 50 गौशाला ठीक ढंग से कार्यरत हैं, शेष गौशालाओं की स्थिति दयनीय है।

बिहार विधान परिषद में भाजपा सदस्य बालेश्वर सिंह भारती द्वारा लाए गए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर सरकार की ओर से उत्तर देते हुए गिरीराज सिंह ने सोमवार को कहा कि राज्य में करीब 50 गौशाला ठीक ढंग से कार्यरत हैं शेष गौशालाओं की स्थिति दयनीय है।

उन्होंने कहा कि बिहार सरकार राज्य में निबंधित सभी 86 गौशालाओं के विकास के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। सिंह ने कहा कि इन सभी गौशालाओं का विकास का काम क्रमबद्ध ढंग से किया जा रहा है और वर्ष 2010-11 में 16 गौशालाओं को अधिकतम छह लाख रुपए तक अनुदान की राशि वितरित की गयी है।

उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से वर्ष 2011-12 में भी तय 30 गौशाला का चयन किया गया है और उन्हें भी अधिकतम छह लाख रुपए की अनुदान की राशि दी जानी है पर प्राधिकत समिति द्वारा इस अनुदान की राशि से वर्मी कम्पोस्ट और बायोगैस प्लांट के निर्माण कार्य की बात कही गयी। सिंह ने कहा कि वर्मी कम्पोस्ट और बायोगैस प्लांट के निर्माण के लिए देशी गौवंश के सरंक्षण एवं संवर्धन की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा इसके लिए योजना विकास विभाग को पुनर्विचार के लिए अनुरोध किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:36 गौशालाओं की स्थिति दयनीय: मंत्री