DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोलह क्रान्तिकारी याद किए गए

उत्तर प्रदेश में जौनपुर जिले के कुंवरपुर में सोमवार को महान क्रांतिकारी हरपाल सिंह और पन्ना लाल चमार सहित सोलह अमर शहीदों का 155 वां बलिदान दिवस मनाया गया।

इस अवसर पर हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन आर्मी और लक्ष्मीबाई ब्रिगेड के कार्यकर्ताओं ने जिस जगह इन क्रांतिकारियों को फांसी दी गई थी वहां पर मोमबत्ती तथा अगरबत्ती जलाई और पुष्प अर्पित करने के बाद दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

लक्ष्मीबाई ब्रिगेड की अध्यक्ष मंजीत कौर ने इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि वीरांगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के कार्यों तथा विचारों से प्रभावित होकर हरपाल सिंह, पन्ना लाल तथा चौदह अन्य ने फरवरी 1857 में अंग्रेजों को बंधक बनाकर उनके शस्त्र छीन लिए थे।

बाद में अंग्रेजों ने क्रांतिकारी हरपाल सिंह सहित सोलह लोगों को गिरफ्तार किया और कुंवरपुर गांव में सड़क के किनारे पेडों पर लटकाकर उन्हें 12 मार्च 1857 को फांसी दे दी थी। उन्होंने कहा कि आज कुंवरपुर से बीकासराय तक जाने वाले मार्ग का नाम अमर शहीद हरपाल सिंह आदि के नाम पर रखा गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोलह क्रान्तिकारी याद किए गए