DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माओवादियों ने निजी कंपनी की आठ मशीनों को जलाया

बिहार के नक्सल प्रभावित औरंगाबाद जिल में जाजापुर गांव के निकट रविवार देर रात भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) उग्रवादियों ने एक सड़क निर्माण कंपनी के कैंप पर हमला करके करोड़ों रुपए मूल्य की मशीनों को जलाकर नष्ट कर दिया।

पुलिस सूत्रों ने आज बताया कि करीब 2025 की संख्या में हथियारों से लैस माओवादियों ने गोह, रफीगंज पथ स्थित जाजापुर गांव के निकट सड़क निर्माण में लगी एक निजी कंपनी के कैंप पर धावा बोला और वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों को अपने कब्जे में ले लिया इसके बाद उन्होंने वहां रखे तीन ग्रेडर मशीन, एक पीसी मशीन, दो पेभर और एक हाईट्रा तथा एक कैंपर मशीन पर डीजल छिड़ककर आग लगा दी।

सूत्रों ने बताया कि माओवादियों ने संभवत: लेवी की मांग को लेकर इस घटना को अंजाम दिया है। इस सिलसिले में संबंधित थाने में एक मामला दर्ज करके माओवादियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

इस बीच कंपनी के परियोजना प्रबंधक ऋषिकेश मिश्रा ने बताया कि माओवादियों के हमले से कंपनी को करीब दो करोड़ से अधिक रुपए का नुकसान हुआ है। इस घटना के बाद शिवगंज, रफीगंज भाया गोह, उपहारा, बैदराबाद सड़क निर्माण कार्य पूरी तरह ठप हो गया है। उल्लेखनीय है कि इस सड़क का निर्माण कार्य करीब 150 करोड़ रुपए की लागत से विश्व बैंक की मदद से किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माओवादियों ने निजी कंपनी की आठ मशीनों को जलाया