DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिसार में स्थिति तनावपूर्ण, जाट अपनी मांगो पर कायम

हिसार जिले में गुरुवार को तनाव बरकरार रहा क्योंकि अन्य पिछड़ी जाति के तहत आरक्षण की मांग के लिए दबाव बनाने के लिए आंदोलन के दौरान गिरफ्तार किये गए लोगों की रिहाई की मांग को लेकर आंदोलनकारी जाटों और राज्य सरकार के बीच गतिरोध जारी है।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के नेता सुरेश कोठ ने यहां कहा कि हम राज्य सरकार से तब तक कोई बातचीत नहीं करेंगे जब तक हमारी मांग (गिरफ्तार लोगों की रिहाई) पूरी नहीं होती। इसके साथ ही खाप नेताओं के साथ भी कोई बातचीत नहीं होगी जो कि केवल राज्य सरकार के लिए कार्य कर रहे हैं।

जाटों ने हिसार-दिल्ली और हिसार-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्गों सहित कई सड़कों को अवरुद्ध कर दिया है। दिल्ली, पंजाब और राजस्थान के बीच रेल सम्पर्क भी प्रभावित है। इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जाटों का आह्वान किया कि वे संयम बरतें और कथित पुलिस गोलीबारी में मारे गए युवक के शव का अंतिम संस्कार कर दें।

पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प में मारे गए युवक संदीप का शव रेलवे पटरी के किनारे रखा हुआ है क्योंकि जाट गिरफ्तार लोगों की बिना शर्त रिहाई की मांग को लेकर अड़े हुए हैं। कोठ ने कहा कि मांगें पूरी होने तक युवक का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हिसार में स्थिति तनावपूर्ण, जाट अपनी मांगो पर कायम