DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'बड़े पर्दे पर चल पड़ेगा सैफीना फैक्टर'

बॉलीवुड स्टार सैफ अली खान ने यह बात मानने से साफ इंकार किया है कि करीना कपूर के साथ उनकी फिल्मी जोड़ी अब तक बॉक्स ऑफिस पर केवल इसलिए धमाल नहीं मचा सकी है, क्योंकि दोनों असल जिंदगी में भी साथ-साथ हैं।
   
बॉलीवुड के नवाब की मानें तो उनकी रियल लाइफ जानेमन के साथ वाली फिल्मों के न चल पाने की वजहों में पटकथा और फिल्म रिलीज होने के समय की गड़बड़ी के कारक शामिल हैं।
   
अपनी अगली फिल्म 'एजेंट विनोद' के प्रचार के लिए यहां आये सैफ ने कहा कि मैं नहीं मानता कि यह जोड़ी (सैफ और करीना) फिल्मी पर्दे पर इसलिए उतनी सफल नहीं हुई, क्योंकि इसके जोड़ीदार असल जीवन में भी साथ हैं। फिल्में मेरी या करीना की वजह से नाकाम नहीं हुईं। मुझे लगता है कि करीना गजब की अदाकारा हैं और मैं भी अपने आपको अच्छा अभिनेता मानता हूं।
   
उन्होंने हिन्दी सिनेमा के सैफीना (सैफ और करीना) फैक्टर की पिछली नाकामियों के सवाल पर सफाई देते हुए कहा कि इस जोड़े की केमिस्ट्री के बड़े पर्दे पर नहीं चल पाने के पीछे (खराब) पटकथा और फिल्म रिलीज होने का (गलत) समय जैसे कारक शामिल हैं।

सैफ और करीना की मुख्य भूमिकाओं वाली फिल्म 'एजेंट विनोद' 23 मार्च को बड़े पर्दे पर उतरेगी। इससे पहले यह जोड़ी 'कुर्बान' (2009) और 'टशन' (2008) जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी है, जो बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास नहीं कर सकी थीं।
   
बहरहाल, सैफ ने अतीत की असफलताओं को परे रख दिया है। वह भरोसा जताते हैं कि फिल्म 'एजेंट विनोद' में सैफीना फैक्टर दर्शकों का दिल जीत लेगा। उन्होंने कहा कि हम इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं कि वास्तविक जीवन के रिश्ते को फिल्माये जाते वक्त पूरी सावधानी बरती जानी चाहिए। इस रिश्ते को बड़े पर्दे पर घिसेपिटे तरीके से पेश नहीं किया जाना चाहिए। 
   
सैफ जोर देकर कहते हैं, फिल्म 'एजेंट विनोद' की पटकथा और किरदार दमदार हैं। इसमें हम दोनों के रोल इस तरह रचे गए हैं कि लोग केवल फिल्मी किरदारों को देखेंगे और यह भूल जायेंगे कि हमारी जोड़ी फिल्मी पर्दे के बाहर कैसी है। 
   
41 वर्षीय बॉलीवुड स्टार ने इस खबर को खारिज किया कि उन्होंने करीना के कहने पर आगामी फिल्म 'रेस-2' की पटकथा में इसलिए बदलाव किया, क्योंकि उसमें उनके कुछ गरमा-गरम दृश्य थे। सैफ ने एक सवाल पर कहा कि करीना बहुत अच्छी कलाकार हैं और सिनेमा से प्यार करती हैं। वह एक समझदार लड़की भी हैं। वह मुझसे कभी नहीं कहेंगी कि फलां पटकथा बदल दो या फलां किरदार मत निभाओ।
   
उन्होंने मजाकिये लहजे में कहा कि अगर किसी फिल्म में मेरे गरमा-गरम दृश्य होंगे तो वह मुझे जिम जाने के लिए कहेंगी। हो सकता है कि 'एजेंट विनोद' के पोस्टर में हॉलीवुड की जासूसी फिल्मों के मशहूर प्रतिनिधि किरदार जेम्स बांड की थोड़ी, बहुत झलक मिलती हो। लेकिन सैफ के मुताबिक 23 मार्च को बड़े पर्दे पर उतरने वाले बॉलीवुड शाहकार में बांड फिल्मों की नकल की कोशिश नहीं की गयी है और इसमें नायक का किरदार एकदम अलग है।   
   
उन्होंने बताया कि हमने इस फिल्म का नाम 'एजेंट विनोद' इसलिए रखा, क्योंकि विनोद के नाम से देश का बड़ा दर्शक वर्ग परिचित है। सैफ कहते हैं कि मेरी अब तक की फिल्में खासकर मल्टीप्लेक्स के दर्शकों को ध्यान में रखकर बनायी गई हैं। लेकिन अब मैं अभिनेता के रूप में ज्यादा से ज्यादा आम लोगों तक पहुंचना चाहता हूं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'बड़े पर्दे पर चल पड़ेगा सैफीना फैक्टर'