DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक्शन से ज्यादा मुश्किल हास्य अभिनय : अक्षय

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार एक्शन और हास्य दोनों तरह के किरदार निभाने में माहिर हैं, लेकिन इसके बावजूद उनका कहना है कि कैमरे के सामने एक्शन की तुलना में हास्य अभिनय करना अधिक मुश्किल है।

44 वर्षीय अक्षय ने नीरज पांडे की फिल्म 'स्पेशल चाबीज' के सेट पर कहा कि एक्शन आसान है, यह बहुत आसान है।

उन्होंने कहा कि आप जानते हैं कि किसी को लात मारना, घूंसा मारना और कोई एक्शन करना आसान है। यह सच्चाई है कि कैमरे का कमाल एक्शन को और ज्यादा बढ़िया बना देता है। भावुक दृश्य के लिए आप आंखों में ग्लीसरिन डालकर किसी भी कलाकार को रूला सकते है और दर्शक सोचते हैं कि वह रो रहा है, इसलिए लोग भी रोना शुरू कर देते हैं।

लेकिन किसी को हंसाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। लोगों को हंसाना बहुत मुश्किल है। इसलिए हास्य अभिनय अधिक मुश्किल है। अक्षय 'खिलाड़ी', 'सबसे बड़ा खिलाड़ी', 'खिलाड़ियों का खिलाड़ी', 'इंटरनेशनल खिलाड़ी', 'वक्त हमारा है' और 'मोहरा' जैसी हिन्दी फिल्मों के निर्विवादित एक्शन अभिनेता हैं।

वर्ष 2000 में रिलीज हुई हिट फिल्म 'हेरा-फेरी' में उन्होंने हास्य अभिनय किया था। इसके बाद उन्होंने 'गरम मसाला', 'फिर हेरा फेरी', 'भागम भाग', 'वेल्कम', 'सिंह ईज किंग', 'हाउसफुल' और 'तीस मार खान' जैसी हास्य फिल्मों में काम किया।

अपने 25 वर्षो के करियर में करीब 100 फिल्मों में काम कर चुके अक्षय ने बताया कि हास्य अभिनय के बारे में कुछ नहीं बदला है। आप दिल से जो भी करते हैं, लोग उसका आनंद लेते हैं। अपने दिल और दिमाग के साथ आगे बढ़े...अगर आप अपना काम ईमानदारी से करेंगे, तो वह हमेशा दर्शकों का दिल जीतने में कामयाब रहेगा।

अक्षय फिलहाल साजिद खान की 2010 में बनी हास्य फिल्म 'हाउसफुल' के सिक्वेल का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। 'हाउसफुल 2' अगले महीने की पांच तारीख को रिलीज होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक्शन से ज्यादा मुश्किल हास्य अभिनय : अक्षय