DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मां-बेटी के कपड़े फाड़े, नग्न अवस्था में गांव में घुमाया

 पुरानी रंजिश के तहत रायपुर कलां के कुछ लोगों ने हथियारों के बल पर एक विधवा मां और उसकी बेटी के कपड़े फाड़ दिए और उन्हें नग्न अवस्था में गांव में घुमाया गया। आरोपियों ने विधवा के बालों से पकड़कर खीच लिया। इस मामले में पुलिस में शिकायत की गई। आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में मामूली धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीड़ित मां-बेटी को बी.के अस्पताल में भर्ती कराया गया। पीड़ित लकड़ी की शादी 12 मार्च को होनी तय हुई है। जिसके घर में शादी की तैयारियां चल रही थी। होली के दिन हुए इस हमले के बाद से घर का माहौल मातम में बदल गया।

रायपुर कलां की 50 वर्षीय महिला बबीता कौर (बदला हुआ नाम) ने बताया कि करीब तीन माह पहले गांव में किसी ने उसके पूला झुंड को चुरा लिया था। जिसके बारे में उसने आसपास के लोगों ने पता करते हुए पड़ोसी ईशर सिंह से भी पूछ लिया। ईशर सिंह ने उसका गुस्सा करते हुए चोरी का इलजाम लगाए जाने का आरोप लगा दिया। इस बात पर बबीता कौर और ईशर सिंह के बीच कहासुनी हो गई। गांव के लोगों ने इस मामले को शांत करा दिया। दो माह पहले ईशर सिंह की बेटी की शादी होनी थी। गांव के किसी व्यक्ति ने जिला प्रशासन को लिखित सूचना देकर बताया कि ईशर सिंह अपनी नाबालिग बेटी की शादी कर रहा है। जिला प्रशासन ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए शादी को रूकवा दिया। बताया जाता है शादी को रूकवाने में ईशर सिंह का बबीता कौर पर शक था। जिस वजह से वह रंजिश रखने लगा।

होली के दिन गुरुवार दोपहर को करीबन दो बजे बबीता कौर अपनी नन्द और बेटी के साथ शादी की तैयारियों के लिए घर में सामान आदि को रख रही थी। आरोप है कि तभी ईशर सिंह अपने परिवार के लोगों ने रेशम सिंह ,गुरुदेव, सोनू, मालो बाई, बंटो बाई, इशहार सिंह, प्रेम सिंह, फोमन सिंह, बीन्द्र सिंह, गुरुदयाल ,गुलजार के साथ लाठी डंडों से लैस होकर दरवाजा तोड़कर बबीता कौर के घर में घुस आए। घर में मौजूद बबीता कौर और उसकी बेटी व नन्द कुछ समझ पाते इससे पहले की आरोपियों ने हमला कर दिया। बबीता कौर का कहना है कि आरोपी दोनों मां बेटी को घर से बाहर खींच लाए और उनके कपड़ों को फाड़ दिया। दोनों मां बेटी उनसे रहम की दुहाई मांगती रहीं, लेकिन हमलावर नहीं पसीजे। बबीता कौर का आरोप है कि आरोपियों ने उन्हें गांव में नग्न घुमाना शुरू कर दिया। जब वह लाज बचाने के लिए चौक पर बैठ गई तो आरोपियों ने उसके बालों को पकड़कर खींचना शुरू कर दिया। आरोपियों ने विधवा के बेटे पर भी हमला किया। जिसे ग्रामीण ने बचाया। घायल मां बेटी को बी.के अस्पताल में भर्ती कराया । छांयसा थाना के एएसआई महेंद्र सिंह ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ घर में घुसकर मारपीट का मामला दर्ज किया गया है। नग्न किए जाने की जांच की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मां-बेटी के कपड़े फाड़े, नग्न अवस्था में गांव में घुमाया