DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सियासत की रंगीन होली में जमकर बरसे फूल

पांच साल तक हाशिये में रहा सैफई इस बार होली में सत्ता का केंद्र बिन्दु रहा। यहां समाजवादी पार्टी के सिरमौर नेता मुलायम सिंह का स्वागत फूलों की होली से किया गया। 20 क्विंटल फूलों की होली खेली गई। मुलायम सिंह यादव तो हर साल होली सैफई में ही मनाते हैं पर इस साल कुछ ज्यादा जोश दिखाई पड़ा। सत्ता व होली के रंग में डूबे सांसद धर्मेद्र यादव ने गले में ढोलक डालकर बजाई तो प्रवक्ता प्रो.रामगोपाल यादव ने फाग गाया। हालांकि होली में प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव का न पहुंचना लोगों को सालता रहा।

अपने नेता के साथ न सिर्फ सैफई व आसपास के लोग होली खेलने को आतुर दिखाई पड़े,बल्कि राजधानी से तमाम अफसर भी दौड़े चले आए। हुजूम ऐसा कि कई बार धक्का-मुक्की की नौबत आ गई। समझाने से भी लोग नहीं माने तो मुलायम को कहना पड़ गया कि अनुशासन टूटा तो वह वापस लौट जाएंगे।

विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को बहुमत मिलने से काफी कुछ बदल दिया। कल तक सैफई की ओर रुख न करने वाले सैकड़ों नेता कार्यकर्ता व अफसरों की चाल ढाल बदल गई। जिला मुख्यालय से 20 किमी दूर बसे सैफई गांव की ओर गुरुवार की सुबह 6 बजे से बड़ी-बड़ी लक्जरी व वीआईपी गाड़ियां फर्राटे भरने लगीं। कारण था समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव का अपने गांव में आकर होली मनाना। मुलायम सिंह यादव को सैफई हवाई पट्टी पर चार्टर्ड प्लेन से 8.30 बजे आना था, 8 बजते-बजते हवाई पट्टी पर हजारों लोगों की भीड़ एकत्र हो गई, जबकि भारी संख्या में लोग मुलायम सिंह यादव की कोठी पर जमा हो गए थे। मुलायम सिंह यादव 10.45 बजे पहुंचे तो लोग उनको देखने को टूट पड़े। स्थिति बेकाबू देखकर मुलायम सिंह यादव को ही मंच पर खड़े होकर कहना पड़ा कि अनुशासन टूटा तो वे लौट जाएंगे। यदि अनुशासन में नहीं रहोगे तो पीएम तक कैसे पहुंच सकेंगे। मुलायम की यह बात लोगों को छू गई और लोग शांत हो गए।
5 साल से फीकी सी दिखाई देने वाली सैफई की होली में अबकी रंगों की मस्ती के अलावा सत्ता की हनक भी दिखाई दी। हनक ऐसी थी कि मुलायम से जुड़े ही नहीं 5 साल से किनारा कर चुके अफसर भी उनको बुकेदेकर होली की शुभकामनाएं देते दिखाई दिए। सैफई में मुलायम के साथ होली मनाने के लिए लखनऊ व कानपुर के कई अफसर बुधवार की रात ही इटावा पहुंच गए थे।
मुलायम सिंह के साथ शिवपाल, प्रो.रामगोपाल, राजपाल यादव, धर्मेद्र यादव, शिवपाल पुत्र अंकुर, राजपाल पुत्र अंशुल व ब्लॉक प्रमुख तेज प्रताप भी लोगों के साथ होली खेलने में मस्त हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सियासत की रंगीन होली में जमकर बरसे फूल