DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घर-गाड़ी की ड्राइविंग सीट से विमान के कॉकपिट तक

आज शहरी महिलाओं की भूमिका बहुआयामी हो गई है। वह अब सिर्फ घर की ड्राइविंग सीट पर नहीं बैठी है बल्कि गाड़ियां दौड़ाने के अलावा विमान भी उड़ा रही है।

1. आसमां पर हौसलों की उड़ान
एयर इंडिया की आठ मार्च की उड़ान से लंदन, न्यूयॉर्क, सिंगापुर, दोहा, बहरीन जा रहे यात्राी एक दुर्लभ अनुभव के साङीदार बन सकते हैं। दरअसल इन रूटों पर दो पुरुष सदस्यों को छोड़कर बाकी सभी क्रू सदस्य महिलाएं होंगी। एयरलाइन के एक प्रवक्ता ने कहा कि विमान परिचालन की सभी गतिविधियों में महिलाएं ही शामिल रहेंगी ताकि यह दिन ऐतिहासिक बन सके। प्रवक्ता ने बताया कि महिला और बाल विकास राज्यमंत्री वर्षा गायकवाड़ महिला क्रू सदस्यों से मुलाकात करेंगी।

2. पटरियों पर रफ्तार होगी हमसफर
महिला दिवस की पूर्व संध्या पर खुशखबरी यह है कि मुंबई में मेट्रो, मोनोरेल के लिए महिला ड्राइवरों की नियुक्ति होने वाली है। मोनोरेल ऑपरेटर्स मलेशिया स्कोमी के अध्यक्ष केनेसन वेलुपिल्लई ने कहा कि कोई भी महिला, जो जरूरी कौशल और शैक्षिक पृष्ठभूमि रखती है, आवेदन कर सकती है। 

3. प्रीपेड कैब पर भी चलेगा जादू
मुंबई शहर के घरेलू एयरपोर्ट से महिलाओं की संचालित प्रीपेड टैक्सी सर्विस आठ मार्च से शुरू हो रही है। यह सेवा महिला मुसाफिरों के लिए होगी। फिलहाल यह 18 मार्च तक चलेगी। इसके बाद मुंबई हाईकोर्ट इसका भविष्य तय करेगा। सेवा की कर्ता-धर्ता प्रियदर्शिनी कैब्स की सुसीबेन शाह ने बताया कि टैक्सियां प्रशिक्षित महिलाएं ही चलाएंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घर-गाड़ी की ड्राइविंग सीट से विमान के कॉकपिट तक