DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राम बारात में बरसा रंग, खूब उड़ा गुलाल

बरेली। वरिष्ठ संवाददाता।

शहर की ऐतिहासिक राम बारात में हुरियारों ने सबको रंग में भिगो दिया। रंग और गुलाल के साथ ही इत्र की खुशबू भी लोगों का फाग का अहसास कराती रही। बारात का जगह-जगह भव्य स्वागत भी किया गया। बरेली उन चंद शहरों में शामिल हैं जहां होली पर भी रामलीला का आयोजन होता है। श्री रामलीला सभा की लीला का यह 152वां साल था। लीला के छठे दिन बमनपुरी से राम बारात का आगाज हुआ। सांसद प्रवीण सिंह ऐरन ने भगवान राम और सीता के स्वरूपों की आरती उतारी। धार्मिक स्वरूपों को लेकर चल रहे चारों रथों का जगह-जगह रोक कर स्वागत किया गया। जो मिला वह रंग में डूबाबारात में शामिल हर शख्स पूरी तरह से होली के सुरूर में डूबा दिख रहा था। आलम यह था कि इन लोगों को जो भी मिला, उसे रंग में डुबो दिया। बड़े-बड़े कड़ाहों में भरे रंग में ही उठाकर तमाम लोगों को डाल दिया गया। प्रेशर पिचकारियों ने तो कमाल ही कर डाला।

छतों से बारात का नजारा देख रहे लोग भी इनकी जद में आने से खुद को बचा नहीं सके। कालीबाड़ी-रोडवेज पर जमा मोर्चाबारात में शामिल तीन ट्रालियों पर सवार हुरियारे तो आज हार मानने को तैयार ही नहीं थे। कालीबाड़ी और रोडवेज पर सबसे जबर्दस्त मोर्चे लगे। यहां कई घंटे तक रंग चलता रहा। यहां पर ही किसी ने पुलिस के घोड़े पर प्रेशर पिचकारी से रंग डाल दिया। इससे घोड़ा बिदक गया। घोड़ा बिदकने से कुछ देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल हो गया। अजब-गजब यह स्वांगटीवी पर कॉमेडी शोज में आपने तरह-तरह के स्वांग देखे होंगे। बरेली के हुरियारे भी इसमें किसी से पीछे नहीं है। बारात में तमाम लोग अजीबोगरीब मुखोटे लगा कर चल रहे थे।

किसी ने बड़ी-बड़ी नकली दाड़ी-मूंछ लगा रखी थी तो कोई गले में नकली मुंडों की माला पहनकर खुद को अघोरी साबित कर रहा था। नकली बंदूक लेकर घूमने वाले तो सबसे ज्यादा नजर आए। बारात पर बरसे फूलसब पर रंग बरसाती चल रही बारात पर कोतवाली के पास खूब फूल बरसाए गए। नाथ नगरी संस्था ने फूल बरसाने का काम किया। हुरियारे भी इस स्वागत से अभिभूत नजर आए। कुछ जगह सिख और मुस्लिम संगठन भी बारात का स्वागत करते दिखे। इसके साथ ही श्याम सेवा मंडल, हिंदू जागरण एकता समिति, अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा, पंजाबी महासभा, खत्री महासभा, बिहारीपुर सौदागरान वेलफेयर सोसायटी, बड़ा बाजार व्यापार मंडल आदि ने भी बारात का स्वागत किया। कुछ ऐसी आगे बढ़ी बारातबमनपुरी से शुरू हुई राम बारात मलूकपुर चौक, बिहारीपुर ढाल, कुतुबखाना, घंटाघर, नावल्टी होते हुए बरेली कालेज पहुंची।

बरेली कालेज से आगे कालीबाड़ी में जबर्दस्त मोर्चो के बाद बारात शाहमतगंज, मठ की चौकी, आलमगिरी गंज, कुतुबखाना, किला क्रासिंग, सिटी स्टेशन, गुलाब वाली मठिया, चमन मठिया होते हुए लीला स्थल पर आकर समाप्त हुई। इनका रहा सहयोगव्यवस्था में प्यारे लाल उपाध्याय, राममूíत मिश्रा, राधाकृष्ण शर्मा, इंद्रदेव त्रिपाठी, अमित अरोरा, अनिल वैश्य, राकेश शंखधार, कमला रस्तोगी, विवेक शर्मा, आशुतोष अग्रवाल, जर्नादन आचार्य, विकल्प शर्मा, अखिलेश अग्रवाल आदि का विशेष सहयोग रहा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राम बारात में बरसा रंग, खूब उड़ा गुलाल