DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोबाइल से चली मैसेज की पिचकारी, लोग हुए परेशान

इस बार होली के त्योहार पर मोबाइल में आने वाले मैसेज इनबॉक्स से ऐसे निकल रहे हैं जैसे पिचकारी से रंग की धार। होली की बधाई का कोई मैसेज मोबाइल के इनबॉक्स में आता है। फिर उसी मैसेज की झड़ी लग जाती है। दूसरी तरफ जिसने मैसेज को किसी एक नंबर पर भेजा, उसे एक की बजाय तीन से पांच मैसेज का अधिक भुगतान करना पड़ा।

यह होली का मजाक नहीं, मोबाइल कंपनियों की गल्तियों से लग रही आम लोगों को आर्थिक चपत है। आधे-आधे घंटें हैंग रहने वाले मैसेज डिलीवर होते ही उपभोक्ताओं के लिए परेशानी की सबब बन गए। खुद बीएसएनएल के एक रिटायर इंजीनियर को इस मुश्किल से रूबरू होना पड़ा। बुधवार को सुबह से बधाई के मैसेज चले। अकेले इलाहाबाद में लाखों एसएमएस किए गए। बधाई देने वाले हजारों लोगों को एक एसएमएस की बजाय चार-पांच की कीमत चुकानी पड़ी। आईटी के जानकार हर्षवर्धन ने आरोप लगाया कि मोबाइल कंपनियां पैसा कमाने के लिए यह सब करने में लगी हैं। इसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई जाएगी। बीएसएनएल के महाप्रबंधक आरएस यादव ने स्वीकार किया कि इस तरह की कई शिकायतें मिली हैं, इसकी जानकारी ली जा रही है। उपभोक्ता शिकायतें दर्ज करा सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोबाइल से चली मैसेज की पिचकारी, लोग हुए परेशान