DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दस में दो रह गई गढ़ में कांग्रेस

कांग्रेस के गढ़ अमेठी और रायबरेली लोकसभा क्षेत्रों में आखिरकार सेंध लग ही गई। इस इलाके की दस में सात विधान सभा सीटों पर कांग्रेस काबिज थी।

इनमें से पार्टी ने छह निवर्तमान विधायकों को इस बार भी आजमाया था मगर न सिर्फ यह हार गए बल्कि ऊंचाहार और बछरांवा में तो दूसरे नम्बर पर भी नहीं आ पाए। कांग्रेस की एक सीट बरकरार रही और एक नई सीट पर कब्जा कर दस में दो का आंकड़ा ही बना पाई। यहां की जनता ने बरसों बाद ऐसा परिणाम दिया कि जिसकी धमक दूर तक चली गई। खुद पार्टी के जिम्मेदार समझ नहीं पा रहे कि अब कैसे इसका बचाव किया जाए।

इस बार के चुनावों में अब समाजवादी पार्टी के खाते में सात सीटें हो गईं हैं। सीएसएम नगर की पांच में दो सीटों पर कांग्रेस और तीन पर सपा ने अपना दम दिखाया जबकि रायबरेली की पांच में चार पर सपा और एक पर पीस पार्टी के रूप में अखिलेश सिंह ने जीत दर्ज की। अमेठी राजघराने की बहू अमीता सिंह के चुनाव हारने से यह प्रतिष्ठित सीट कांग्रेस ने सपा के हाथों गंवा दी। यहां अमीता सिंह का कुल वोट तो बढ़ा मगर वोट प्रतिशत कम हो गया और सपा ने पिछली बार की तुलना में तीन गुना वोट हासिल कर लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दस में दो रह गई गढ़ में कांग्रेस