DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्यपाल ने खींची भावी योजनाओं की तसवीर

रांची ’ हिन्दुस्तान ब्यूरो। झारखंड विधानसभा में राज्यपाल डॉ सैयद अहमद ने सरकार की सालभर की उपलब्धियां गिनाईं और आनेवाले नए वित्तीय वर्ष के लिए भावी योजनाओं की तसवीर पेश की। राज्य की अर्थव्यवस्था की चर्चा करते हुए राज्यपाल ने कहा कि आर्थिक विकास दर में 11 प्रतिशत तथा राज्य के योजना बजट में 62 प्रतिशत की बढ़ोतरी सरकार की बड़ी उपलब्धि है।

राज्य में वर्षो से लंबित छह नई रेल परियोजनाओं को 2013 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया। 556 किलोमीटर नई रेल लाइन के विस्तार के लिए राज्य सरकार ने रेल मंत्रालय के साथ समझौता किया है। राज्यपाल ने कहा कि जिला सहित सभी स्तरों पर नियुक्तियां की जा रही हैं।

राज्यपाल ने 11 बजकर 37 मिनट अपना भाषण शुरू किया और 12 बजकर 25 मिनट पर समाप्त किया।फिर आश्वासनों का पुलिंदारांची। विधानसभा में एक बार फिर आश्वासनों का पुलिंदा पेश किया गया।

संसदीय कार्यमंत्री हेमलाल मुर्मू ने शीत सत्र में सरकार द्वारा दिए गए आश्वासनों की कृत कार्रवाई रिपोर्ट (एटीआर) पेश की। इस सत्र में सरकार द्वारा कुल 81 आश्वासन दिए गए थे। दो महीने में मात्र सात ही पूरे किए गए हैं।

सीएम की घोषणा भी पूरी नहीं : डोरंडा के रूफी मामले में सीएम ने घोषणा की थी कि वह मामला सीबीआइ को भेज देंगे। एटीआर में बताया गया कि मामला अब भी लंबित है। धनबाद गोली कांड मामले में सरकार ने कार्रवाई नहीं की है।

दूसरी घोषणाओं का भी हाल बेहाल : आपदा प्रबंधन मंत्री गोपाल कृष्ण पातर ने किसानों को क्षतिपूर्ति के भुगतान के लिए शीघ्र राशि आवंटित करने का आश्वासन दिया था। यही स्थिति ऊर्जा विभाग की है। इससे संबंधित 15 आश्वासन दिए गए थे। जिसके आंशिक अनुपालन की बात कही गई है।

ट्रांसफारमर बदलने, विद्युत सब केन्द्र का उद्घाटन करने, विद्युत आपूर्ति जैसी छोटी-छोटी मांगें भी पूरी नहीं की गई हैं। विधायक केएन त्रिपाठी के सवाल पर बिरहा एवं सपही में पुल निर्माण में गड़बड़ी करने वाले संवेदक को काली सूची में डालने का आश्वासन दिया गया था। मुख्य अभियंता के मंतव्य का इंतजार किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राज्यपाल ने खींची भावी योजनाओं की तसवीर