DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक से पांच लाख की चोरी

औरंगाबाद जिले में नवीनगर को-ऑपरेटिव बैंक से मंगलवार को पांच लाख रुपए गायब हो गए और किसी को इसकी भनक तक न लगी। हुआ यों कि बैंक के कैशियर राधाकृष्ण सिंह अपने मैनेजर रामबदन बैठा के साथ स्टेट बैंक से पांच लाख रुपए लेकर तकरीबन साढ़े 11 बजे बैंक पहुंचे।

कैशियर रुपए से भरे इस थैले को अपनी कुर्सी के नीचे रखकर काम में व्यस्त हो गया। तकरीबन डेढ़ घंटे बाद जब उनकी नजर झोले की ओर गई तो झोला वहां था ही नहीं। इसके बाद कैशियर ने इसकी सूचना अपने अधिकारियों को दी। इस सूचना पर बैंक में अफरा-तफरी मच गई।

मैनेजर ने इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को दी। सूचना पाकर नवीनगर पुलिस बैंक पहुंची और बैंक का मेन गेट बंद कर अंदर पूरी तालाशी ली पर कहीं कुछ पता नहीं चला।
सूचना मिलने पर कोआपरेटिव बैंक के एमडी श्रवण कुमार समेत कोऑपरेटिव चेयरमैन जगनारायण सिंह भी वहां पहुंचे और वस्तुस्थिति की जानकारी ली।

पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है। बैंक के लोगों को भी यह पता नहीं चल पा रहा कि आखिर रुपए का थैला गया कहां। इस संदर्भ में लोग तरह-तरह की कयास लगा रहे है पर स्थिति स्पष्ट नहीं हो रही है।

पुलिस को संदेह है कि इस चोरी में बैंक के किसी कर्मी की मिलीभगत हो सकती है जिसे पैसे लाने और इसे वहां लापरवाही से रखे जाने की पूरी जानकारी थी। दूसरी ओर कैशियर की भूमिका पर भी संदेह वयक्त किया जा रहा है कि उन्होंने इतनी बड़ी रकम को आलमारी या सेफ में रखने की बजाय गंभीर लापरवाही दिखाते हुए कुर्सी के नीचे थैले में रख छोड़ा था।

को-ऑपरेटिव बैंक के एमडी ने कहा कि ये गंभीर मामला है और इस लापरवाही के लिए कैशियर से स्पष्टीकरण मांग कर उसके ऊपर कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंक से पांच लाख की चोरी