DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू को फिर डराने लगा चारा घोटाले का भूत

पूर्व रेल मंत्री सह सांसद लालू प्रसाद को एक बार फिर चारा घोटाले का भूत डराने लगा है। काफी टाल-मटोल के बाद सीबीआइ कोर्ट में पहले से तय तारीख को उन्हें बयान देना पड़ा। उस दिन लालू ने कोर्ट में कहा था कि गवाहों की सूची जल्द ही सौंप देंगे। लेकिन कभी बयान अंग्रेजी की जगह हिन्दी में दर्ज कराने तो कभी बेटी की इंगेजमेंट के लिए समय मांगते रहे।

कोर्ट ने लालू का बयान हिन्दी में ले उसे अभिलेख में रख लिया और गवाहों की सूची के लिए अंतिम तारीख 13 मार्च निर्धारित की। लालू को अगर गवाहों की सूची देनी है तो हरहाल में 13 मार्च तक कोर्ट को सौंप देनी होगी। इसी राह पर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र भी चल रहे हैं।

गवाही शुरू : चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ रुपए की अवैध निकासी मामले में मंगलवार को अभियुक्त रवीन्द्र कुमार मेहरा की गवाही दर्ज की गयी। इसी के साथ लालू से जुड़े मामले में बचाव पक्ष की गवाही शुरू हो गयी। अब तक डॉ. केएन झा, डॉ. केएम प्रसाद समेत चार आरापियों ने गवाहों की सूची कोर्ट को सौंपी है।

आगे क्या : बचाव पक्ष की गवाही पूरी होते ही दोनों पक्षों की ओर से बहस शुरू होगी। इसके बाद अंतिम बहस होगी। अंत में कोर्ट दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद फैसले की तारीख तय करेगा, जिसमें लालू समेत मामले के सभी आरोपियों को कोर्ट में सशरीर पेश होना जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लालू को फिर डराने लगा चारा घोटाले का भूत