DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैप्टन का सपना टूटा पर जीते रिकार्ड मतों से

पंजाब विधानसभा चुनाव जीतकर एक बार फिर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने का प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का सपना भले ही टूट गया हो लेकिन उनके लिए राहत की बात यह रही कि इस चुनाव में उन्होंने भारी मतों के अंतर से जीत हासिल कर पटियाला में अपना दबदबा बरकरार रखा है।

अमरिंदर ने पारम्परिक पटियाला सीट से रिकार्ड 42318 मतों से जीत हासिल की। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी शिरोमणि अकाली दल के उम्मीदवार सुरजीत सिंह कोहली को आसान मुकाबले में बड़े अंतर से पराजित किया।

हालांकि अकाली दल के बिक्रम सिंह ने मजीठा सीट से सर्वाधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की। सिंह ने निर्दलीय उम्मीदवार सुखविंदर राज सिंह को 47,581 मतों से पराजित किया।

पंजाब में सबसे कांटे का मुकाबला फिल्लौर सीट पर देखने को मिला। यहां एक जोरदार लड़ाई में कांग्रेस के उम्मीदवार संतोष सिंह चौधरी अकाली उम्मीदवार अविनाश चंदर के हाथों महज 31 मतों से हार गए।

पट्टी सीट पर भी मुकाबला रोचक रहा। यहां भी कांग्रेस उम्मीदवार हरमिंदर सिंह गिल को अकाली दल के उम्मीदवार आदेशप्रताप सिंह कैरों के हाथों सिर्फ 59 मतों से पराजित होना पड़ा।

ज्ञात हो कि पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन ने 68 सीटें जीतकर लगातार दूसरी बार सत्ता में काबिज होने का इतिहास बनाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैप्टन का सपना टूटा पर जीते रिकार्ड मतों से