DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बदलेगी प्रक्रिया, दाखिले होंगे ऑनलाइन

दाखिला प्रक्रिया को पारदर्शी और बेहतर बनाने के लिए 16 प्राचार्यों की समिति ने दिया प्रस्ताव

दिल्ली विश्वविद्यालय में सेमेस्टर सिस्टम में पहले सेमेस्टर में किसी कारण से परीक्षा देने से रोके जाने वाले छात्रों की मुश्किलें बढ़ सकती है। अब इन छात्रों को दोबारा से दाखिला लेना होगा।

दाखिला प्रक्रिया को पारदर्शी और बेहतर बनाने के लिए बनाई गई 16 प्राचार्यों की समिति ने ये प्रस्ताव दिया है। समिति का कहना है कि पहले सेमेस्टर में उपस्थिति कम होने या किसी अन्य कारण से किसी छात्र को परीक्षा देने से रोका जाता है तो उन्हें उसी कक्षा में दोबारा दाखिला नहीं मिलेगा। उन छात्रों को दाखिले के लिए दोबारा आवेदन करना होगा। इसके साथ ही इस बार कटऑफ सूची के आधार पर छात्र दो दिन ही दाखिला ले सकेंगे। प्राचार्यो की कमेटी द्वारा दिए गए प्रस्ताव में दाखिलों के लिए फीस जमा करने के दिन कम करने की सिफारिश की गई है।

समिति के चेयरमैन और दयाल सिंह कॉलेज सांध्य के प्राचार्य दीपक मल्होत्रा का कहना है कि बीते साल कॉलेज के सामने सीमा से अधिक दाखिले होना एक बड़ी समस्या के तौर पर सामने आई थी। इसकी प्रमुख वजह दाखिले के लिए प्री-रजिस्ट्रेशन फॉर्म न होना था। साथ ही कॉलेजों द्वारा अनुमान के आधार पर कटऑफ सूची निकाली थी जिसने भी परेशानियां बढ़ाई थी। ऐसे में समिति ने समिति ने प्रस्ताव दिया है कि कटऑफ सूची के आधार पर फीस जमा करने और दाखिले के लिए दो दिन जाए और कटऑफ सूची के बीच एक दिन का अंतर रखा जाए। समिति ने कहा है कि आठ से दस कटऑफ सूची निकाली जाए। जिससे छात्रों को असुविधा न हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बदलेगी प्रक्रिया, दाखिले होंगे ऑनलाइन