DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उच्च सदन पर भी यूपी चुनाव का असर

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे प्रदेश के कोटे की राज्यसभा सीटों की गणित पर भी प्रभाव डालेंगे।

राज्य में मंगलवार की मतगणना में कांग्रेस साठ का आंकड़ा पार करती है तो सीडब्लूसी सदस्य रशीद मसूद सहित दो नेताओं की राज्यसभा सीट पक्की है। दूसरी सीट के लिए यूपी चुनाव में अहम भूमिका निभाने वाले कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्लूसी) के सदस्य मोहन प्रकाश और संसदीय कार्य राज्यमंत्री राजीव शुक्ला भी दावेदार हो सकते हैं। राजीव शुक्ला इस वक्त महाराष्ट्र से राज्यसभा सदस्य हैं। प्रदेश की दस राज्यसभा सीटों में से पांच बसपा, दो सपा, दो भाजपा और एक सीट रालोद के पास है। सपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरती है, तो यह स्थिति बदल सकती है।

आंध्र प्रदेश में तेलंगाना समस्या और जगन मोहन रेड्डी की बगावत से पैदा हुए हालात के बावजूद कांग्रेस को उम्मीद है कि वह सभी चार सीट जीतने में कामयाब रहेगी। राज्यसभा के लिए दक्षिण फिल्मों के मशहूर अभिनेता और प्रजा राज्यम पार्टी के अध्यक्ष रहे चिरंजीवी और केशव राव का टिकट लगभग तय है। राज्यसभा सदस्य राशिद अल्वी की जगह किसी स्थानीय मुस्लिम को टिकट देने का दबाव है, वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रेणुका चौधरी भी राज्यसभा में पहुंचने की कोशिश कर रही हैं।

पश्चिम बंगाल की राज्यसभा सीटों के लिए पासा पलट सकता है।  चार सीटों में से तीन  माकपा के पास हैं, जबकि एक सीट तृणमूल कांग्रेस की है। इस बार तीन सीट तृणमूल और एक सीट लेफ्ट के हिस्से में आ सकती हैं। वहीं, उत्तराखंड में राज्यसभा के लिए सत्यव्रत चतुर्वेदी को दोबारा कार्यकाल मिलना तय है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उच्च सदन पर भी यूपी चुनाव का असर