DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डंकन्स हुआ जेपी ग्रुप का, बकाया वेतन भुगतान सोमवार से

शहर के साथ डंकन्स के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी। नए प्रबंधन जेपी ग्रुप ने होली के मौके पर सोमवार से कर्मचारियों को बकाया वेतन बांटने का ऐलान कर दिया है। साथ ही रविवार को जेपी ग्रुप को डंकन्स की सारी सम्पत्ति गोयनका ग्रुप ने हस्तातंरित कर दी। इस हस्तांतरण से अब कानपुर फर्टिलाइजर एंड सीमेन्ट लिमिटेड कम्पनी बकायदा वजूद में आ गई है।

यह पहला मौका है जब किसी बीमार इकाई को लेकर नया प्रबंधन कर्मचारियों को बकाया वेतन का भुगतान कर रहा है। बकाया वेतन मौजूदा और रिटायर हो चुके कर्मचारियों को मिलेगा। बकाया वेतन जुलाई 2003 से लेकर जुलाई 2005 के बीच 36 महीने का है और इसका 50 फीसदी ही भुगतान किया जा रहा है। शेष 50 फीसदी का भुगतान अप्रैल में किया जाएगा। 2005 के बाद का बकाया वेतन भुगतान डंकन्स में चांद छाप यूरिया का उत्पादन शुरू होने के बाद दिया जाएगा। नए प्रबंधन के चेयरमैन मनोज गौड़ ने 6 जून 2010 को आईईएल इम्प्लाइज यूनियन के महामंत्री अरविन्द कुमार से समझौता किया था जिसमें तय हुआ था कि बकाया वेतन 50 की बजाए 55 प्रतिशत दिया जाएगा। यूनियन ने हाल ही में होली से पहले बकाया वेतन बांटने की मांग की थी जिसे प्रबंधन ने मान लिया। कुमार ने बताया कि प्रबंधन ने कर्मचारियों के हित में कदम उठाया है। ऐसा पूर्व में नहीं होता था। इस सूचना से कर्मचारियों के घरों पर जश्न का माहौल है, क्योंकि सालों बाद वेतन मिलने जा रहा है।

ऐसे मिलेगा वेतन
- नया प्रबंधन पुराने कर्मचारियों को जानता नहीं हैं
- रिटायर 1000 और मौजूदा 550 कर्मचारियों को मिलेगा वेतन
-डंकन्स का आईकार्ड,पहचान पत्र दिखाना भी होगा और फोटो कॉपी भी देनी पड़ेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डंकन्स हुआ जेपी ग्रुप का, बकाया वेतन भुगतान सोमवार से