DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेनी के बयान से कांग्रेस ने किया किनारा

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में बसपा से गठबंधन करने संबंधी केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के बयान से किनारा करते हुए रविवार को कहा कि यह उनकी निजी राय है।

कांग्रेस प्रवक्ता राशिद अल्वी ने कहा कि वर्मा ने जो कहा है कि वह उनकी निजी राय है। पार्टी आलाकमान छह मार्च को चुनाव परिणाम आने के बाद सभी पहुलओं पर विचार करके ही कोई फैसला करेगा।

बेनी प्रसाद वर्मा ने आज एक टीवी चैनल से कहा था कि मैं निजी तौर पर सपा की जगह बसपा को तरजीह देता हूं। मायावती ने कानपुर से लेकर एटा तक अराजकता पर नियंत्रण किया है। यह मेरा व्यक्तिगत विचार है। हालांकि कांग्रेस कहती रही है कि पिछले कुछ सालों में उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति बदतर रही।

जब अल्वी से पूछा गया कि क्या वह कांग्रेस और बसपा के बीच किसी तरह के गठबंधन से इनकार कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि मैं किसी काल्पनिक सवाल का जवाब नहीं देना चाहता। परिणामों की प्रतीक्षा करें। कांग्रेस परिणाम आने के बाद कोई निर्णय लेगी और हमें उम्मीद है कि परिणाम हमारे पक्ष में होंगे।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस विधायक दल के नेता प्रमोद तिवारी ने भी वर्मा की राय को दरकिनार कर दिया है। इस बीच कांग्रेस के एक नेता ने बसपा से हाथ मिलाने की संभावनाओं को खारिज कर दिया। उन्होंने नाम नहीं जाहिर होने की शर्त पर कहा कि बसपा के साथ किसी तरह के गठबंधन की संभावना नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बेनी के बयान से कांग्रेस ने किया किनारा