DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गिरफ्तार हुए कुशवाहा

यूपी सरकार की चूलें हिला देने वाले राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन (एनआरएचएम) घोटाले में सीबीआई ने शनिवार को अब तक की सबसे गिरफ्तारी की है।

विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान खत्म होते ही सीबीआई ने राज्य के पूर्व परिवार कल्याण मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा और बसपा विधायक राम प्रसाद जायसवाल को गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट में पेशी के बाद दोनों को 13 मार्च तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

बसपा से मंत्री पद गंवाने के बाद भाजपा का दामन थामने वाले कुशवाहा पर एनआरएचएम में 2,000 करोड़ से अधिक के घोटाले का आरोप है। देवरिया से बसपा विधायक और कुशवाहा को सीबीआई ने पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया था। बाद में जांच एजेंसी ने इन्हें गिरफ्तार कर गाजियाबाद स्थित विशेष सीबीआई जज ए.के. सिंह की कोर्ट में पेश किया, जहां से दोनों को 13 मार्च तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

सीबीआई के वकील प्रभात कुमार सिंह ने करोड़ों रुपये के एनआरएचम घोटाले में दोनों से खर्च के स्नोत तथा रुपये की बरामदगी के संबंध में पूछताछ के लिए 14 दिन की पुलिस कस्टडी मांगी। वहीं, आरोपी पक्ष के वकील महिपाल सिंह अहलुवालिया ने आरोपों को बेबुनियाद बताया और हिरासत में देने का विरोध किया। दोनों पक्षों की दलीलों सुनने के बाद कोर्ट ने दोनों आरोपियों को10 दिन के रिमांड पर भेजने का आदेश दिया। आदेश में कुशवाहा और जायसवाल को 13 मार्च को 12 बजे तक हर हाल में कोर्ट में पेश करने को कहा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गिरफ्तार हुए कुशवाहा