DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुश्किल में पड़े वरुण गांधी

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से भाजपा सांसद वरुण गांधी राज्य में मुख्यमंत्री के लिए पार्टी के 55 उम्मीदवार होने संबंधी बयान देकर मुश्किल में पड़ सकते हैं। भाजपा प्रमुख नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने इसका कड़ा संज्ञान लिया है। उन्होंने संकेत दिया कि वरुण पर ऐसे विवादास्पद बयान के लिए अनुशासनात्मक कार्रवाई भी हो सकती है।

गडकरी ने शुक्रवार को कहा कि ऐसी बातों को उन्होंने गंभीरता से लिया है और आगे ऐसा नहीं चलेगा। हालांकि, उन्होंने कार्रवाई का कोई खुलासा नहीं किया। उन्होंने यूपी में कड़ी मेहनत व लगन के लिए उमा भारती व संजय जोशी की जमकर तारीफ की। इन दोनों को गडकरी ही पार्टी में वापस लेकर आए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी साफ कर दिया है कि फिलहाल संजय जोशी को केंद्रीय टीम में कोई पद दिए जाने की संभावना नहीं है। नरेंद्र मोदी के यूपी चुनाव प्रचार से पूरी तरह अलग रहने पर गडकरी ने कहा कि वह अपने प्रदेश के कार्यक्रमों में बहुत व्यस्त हैं।

राष्ट्रपति चुनाव में क्या एनडीए अपना कोई उम्मीदवार खड़ा करेगा, इस सवाल पर गडकरी का कहना था कि पार्टी पांच राज्यों के चुनाव नतीजों के बाद अपने राजनीतिक हालात का आकलन करके इसका फैसला करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुश्किल में पड़े वरुण गांधी