DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध रुप से मीट बचने वालों पर कसा शिकंजा

नगर निगम की ट्रेड एंड स्लाटर उपसमिति के चेयरमैन व अधिकारियों की टीम ने कई  स्थानों पर मीट बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाया। इस दौरान मीट बेचने वालों के  सामान जब्त कर लिया गया।

शुक्रवार को स्लाटर एंड ट्रेड की उप समिति के चैयरमैन योगेन्द्र सारवान, नगर निगम के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. वी.के. थापर सहित टीम व पुलिस बल ने प्रेमपुरी के सामने झाड़सा रोड पर साथ खाली जगह पर बिना लाईसेंस के गैर कानूनी तरीके से मीट, मुर्गा बेचने वालों हटाया और उनका सामान जब्त कर उन्हें चेतावनी देकर खदेड़ दिया गया।

चेयरमैन योगेन्द्र सारवान ने बताया कि किसी भी प्रकार का खुला मीट नहीं बेचा जा सकता। ऐसा करने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि नगर निगम के किसी भी क्षेत्र में कहीं भी खुले में मीट बेचने वाले और इस तरह का सामान बेचने वालों के साथ सख्ती बरती जाएगी। उनका सामान आदि जब्त कर लिया जाएगा। नगर निगम के चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ थापर ने कहा कि मीट बचने वालों को लाइसेंस लेना जरुरी है। साथ ही उन्हें बेचते वक्त साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखना होगा। सीएमओ ने बताया कि यह कार्रवाई सभी जगहों पर चलाई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अवैध रुप से मीट बचने वालों पर कसा शिकंजा