DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोवा में शनिवार को होगा मतदान

गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा के सदस्यों के चुनाव के लिए शनिवार को 10.25 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे और 215 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इन प्रत्याशियों में नौ महिलाएं और 74 निर्दलीय उम्मीदवार भी शामिल हैं।
   
यह तटीय राज्य देश का वह पहला प्रांत है जहां के विधानसभा चुनाव में मतदान निगरानी प्रणाली अपनायी जा रही है। इस व्यवस्था के तहत सभी मतदाताओं के फोटोग्राफ और उंगलियों के निशान कंप्यूटर में कैद किये जाएंगे। मतदान 1612 मतदान केन्द्रों पर सुबह सात बजे से शुरू होगा और 10,644 मतदान अधिकारी चुनाव कार्य संपन्न करवाएंगे।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी नारायण नवती ने कहा कि राज्य में निष्पक्ष और स्वतंत्र मतदान सुनिश्चित करने के लिए सभी उपाय किये गये हैं। उन्होंने बताया कि किसी तरह की अराजक स्थिति से निपटने के लिए अर्धसैनिक बलों के साथ कुल 3526 स्थानीय पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है।
   
संवदेनशील और अतिसंवेदनशील निर्वाचन क्षेत्रों की सूची पहले ही तैयार कर ली गयी है। पणजी शहर से लगने वाली सेंट क्रूज और चिमबेल को अशांत घोषित किया गया है और वहां भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी है।
   
चुनाव आयोग ने राज्य में 180 महत्वपूर्ण और संवेदनशील मतदान केन्द्रों की पहचान भी की है जहां माइक्रो पर्यवेक्षकों के जरिए विशेष निगरानी की जाएगी। यहां मुख्य मुकाबला कांग्रेस—राष्ट्रवादी कांग्रेस पाटी और भाजपा—महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी के बीच है। कई विधानसभा क्षेत्रों में तृणमूल कांग्रेस की उपस्थिति से चुनाव रोमांचक हो गया है।
   
कांग्रेस में अंदरूनी दरार के कारण वर्ष 2012 के चुनाव में कुछ आश्चर्यजनक परिणाम सामने आ सकते हैं। कांग्रेस पार्टी के कई वरिष्ठ नेता टिकट वितरण के कारण नाराज हैं और निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपना भाग्य आजमा रहे हैं जिससे भाजपा और महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी गठबंधन को लाभ हो सकता है।
   
पणजी विधानसभा सीट से विपक्ष के नेता मनोहर पारिकर अपना भाग्य फिर से आजमा रहे हैं जबकि मुख्यमंत्री दिगंबर कामत मारगांव से मैदान में हैं। कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री प्रतापसिंह राणे और उनके पुत्र विश्वजीत राणे विधानसभा चुनाव में अपनी किस्मत पोरिएम और वालपोई सीट से आजमा रहे हैं। विवादास्पद चर्चिल अलेमाओ परिवार को कांग्रेस राकांपा गठबंधन ने चार सीटों से नवाजा है। चुनाव में उनका दमखम भी परखा जाएगा।
   
संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राज्य में चुनावी जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं और भाजपा की तरफ से भी पार्टी अध्यक्ष नितिन गड़करी के अलावा कई राष्ट्रीय नेताओं ने चुनावी जनसभाओं को संबोधित किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गोवा में शनिवार को होगा मतदान