DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंद्रह अप्रैल को होंगे एमसीडी के चुनाव

राजधानी में निगम के चुनाव 15 अप्रैल को होंगे। राज्य निर्वाचन आयुक्त राकेश मेहता ने गुरुवार को इसकी घोषणा कर दी। जानकारी दी गई कि तीनों निगमों के चुनाव एक ही दिन होंगे। पांच मार्च से चुनावों के मद्देनजर आचार संहिता लागू हो जाएगी।

एमसीडी चुनावों को लेकर निर्वाचन आयोग हाईकोर्ट की हरी झंडी का इंतजार कर रहा था। कुछ पार्षदों ने अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए सीट आरक्षित करने के तरीके पर सवाल उठाते हुए राज्य चुनाव आयोग की अधिसूचना को रद्द करने का आग्रह किया था।

कोर्ट द्वारा गत बुधवार इन याचिकाओं को खारिज करने के अगले दिन ही राज्य निर्वाचन आयुक्त ने चुनावों की तारीख घोषित कर डाली। इसके साथ ही दिल्ली में चुनावी दंगल का आगाज हो गया है। पहली बार ऐसा हुआ है कि चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के बाद आचार संहिता को लागू किया जाएगा।

दिल्ली विधानसभा में एक दिसंबर 2011 को एमसीडी संशोधन विधेयक पारित किया गया था। इसके बाद एमसीडी को तीन हिस्सों में बांटने का मार्ग प्रशस्त हुआ। मौजूदा नगर निगम का कार्यकाल पांच अप्रैल को समाप्त हो जाएगा। तीनों नए निकायों के लिए पार्षदों को चुनने की कवायद इससे पहले पूरी करनी होगी।

उत्तर और दक्षिण दिल्ली निकायों में 104-104 वार्ड होंगे, जबकि पूर्वी दिल्ली में 64 वार्ड होंगे। एमसीडी के लिए करीब 1,12,78,000 लाख मतदाता हैं। इनमें उत्तरी दिल्ली एमसीडी में 42.95 लाख, दक्षिण दिल्ली एमसीडी के 42.67 लाख व पूर्वी दिल्ली एमसीडी के 27.16 लाख मतदाता होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पंद्रह अप्रैल को होंगे एमसीडी के चुनाव