DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गया में डॉक्टर के यहां आयकर का छापा

गया शहर की चर्चित स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. श्यामा रानी प्रसाद के बोधगया स्थित होटल गैलेक्सी, गेवाल बिगहा मुहल्ला स्थित आवास और नर्सिग होम में गुरुवार को आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की।

दोपहर से शुरू हुई छापेमारी रात तक चली। अब तक मिली संपत्तियों में दो करोड़ का कोई लेखा-जोखा इनकम टैक्स अधिकारियों को नहीं मिला। इस तरह की संपत्ति के और बढ़ने की उम्मीद जतायी गयी है। एक वरीय अधिकारी ने बताया कि अभी तक जो संपत्ति पकड़ में आयी है उसमें चिकित्सक के ऊपर 50 लाख रुपए का टैक्स बनता है। इस टैक्स में और बढ़ोत्तरी हो सकती है।

लेडी एलगीन जनाना अस्पताल से गया में नौकरी शुरू करनेवाली डॉक्टर श्यामा रानी प्रसाद अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में स्त्री रोग के विभागाध्यक्ष पद से सेवानिवृत हैं। लेडी एलगीन जनाना अस्पताल के एक कॉटेज में रहनेवाली इस चिकित्सक की निजी प्रैक्टिस इतनी चली कि बोधगया में लग्जरी होटल तक बन गया।

बोधगया के प्राइम लोकेशन पर गैलेक्सी नामक होटल है। गेवाल बिगहा मुहल्ले में जमीन लेकर इन्होंने नर्सिग होम और अपना आवास बनाया। बताया जाता है कि चिकित्सक का कारोबार बढ़ने के बाद इनकम टैक्स की काफी दिनों से इनपर नजर थी।

सहायक आयकर आयुक्त अजय कुमार ने रेड के लिए तीन टीमों का गठन किया। गुरुवार दोपहर में तीनों टीमों ने डॉक्टर के आवास, नर्सिग होम और बोधगया स्थित होटल गैलेक्सी में एक साथ छापेमारी की। अभी तक की जांच में दो करोड़ रुपए की ऐसी संपत्ति का पता चला है जिसका कहीं लेखा-जोखा नहीं है। उसके टैक्स की अदायगी नहीं की गयी है।

रेड में जुटे अधिकारियों का कहना है कि इसमें और बढ़ोत्तरी होगी। अधिकारी ने बताया कि दो करोड़ की संपत्ति का जो ब्योरा मिला है उससे चिकित्सक को 50 लाख रुपए तक टैक्स जमा करना पड़ सकता है। अगर इसमें और वृद्धि हुई तो टैक्स का ग्राफ और बढ़ जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गया में डॉक्टर के यहां आयकर का छापा