DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नहीं सुलझा मेट्रो का विवाद

बदरपुर-वाईएमसीए मेट्रो रेल परियोजना को लेकर उठे एनएचएआई और डीएमआरसी बीच विवाद को सुलझाने के लिए गुरुवार को हरियाणा शहरी विकास कार्यालय में हुई बैठक में कोई निर्णय नहीं हो सका। मामला जस का तस बना हुआ है। अब मामले को वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में सुलझाए जाने की उम्मीद  है। गुरुवार को हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, नगर निगम, एनएचआईए एवं डीएमआरसी के अफसरों की बीच हुई बैठक  में नहीं हुआ कोई निर्णय नहीं हो सका।

हुडा प्रशासक की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में एनएचएआई ने मेट्रो की अलाइनमेंट को लेकर कुछ आपत्तियां जताई। एनएचएआई नेशनल हाइवे के बाईं तरफ  कॉरीडोर के निर्माण को लेकर कुछ स्थानों में बदलाव के साथ सहमत है। विभाग के अधिकारियों ने कुछ स्थानों पर बदलाव की दलीलें पेश की। एनएचएआई की आपत्तियों पर विचार-विमर्श के लिए एक बार फिर से संयुक्त बैठक बुलाई जाएगी। बदरपुर बार्डर से वाईएमसीए तक दौड़ाई जाने वाली मेट्रो की डगर को दो विभागों ने काफी कठिन बना दिया है। अब तक डीएमआरसी के सामने एक न एक बाधा आ जाती है। जिसका खामियाजा मेट्रो का निर्माण कार्य करने में जुटी कंपनियों को उठाना पड़ रहा है।

 
हुडा प्रशासक अमनीत पी कुमार ने बताया कि एनएचएआई और डीएमआरसी के बीच कुछ मसलों पर बातचीत जारी है। अगली बैठक में सभी मसलों को सुलझा लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि डिपो साइट का काम शुरू हो चुका है, जल्द ही कॉरीडोर के निर्माण कार्य भी शुरू होने की उम्मीद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नहीं सुलझा मेट्रो का विवाद