DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्याज हुई सस्ती, पर लोगों को नहीं मिल रहा लाभ

हिन्दुस्तान प्रतिनिधि पटना। नासिक से प्याज की आवक बढ़ने से कीमत में भारी गिरावट आयी है, पर लोगों को कुछ फायदा नहीं हो रहा है। खुदरा व्यापारी थोक भाव से लगभग दोगुने दाम पर प्याज बेच रहे हैं। फिलहाल थोक बाजार में प्याज की कीमत 700 रुपये प्रति क्विंटल है। यानी 7 रुपये प्रतिकिलो। लेकिन, खुदरा बाजार में प्याज की कीमत 12 से 14 रुपये प्रतिकिलो है।

दुकानदार कहते हैं कि होली को लेकर प्याज महंगा हो गया है। हालांकि थोक बाजार में प्याज की कीमत में बढ़ाेतरी नहीं हुई है। लेकिन, व्यापारियों का मानना है कि आने वाले दिनों में अगर प्याज की आवक नहीं बढ़ेगी तो प्रति क्विंटल में 50 से 100 रुपये की बढ़ाेतरी हो सकती है।

प्याज की खपत-:पटना एवं आसपास के इलाकों में प्याज की खपत 800 टन है। प्याज सस्ता और होने पर इसकी खपत बढ़कर 1000 टन के आसपास पहुंच जाती है। बिहार में प्याज की उपज कम होने के कारण लगभग 95 प्रतिशत दूसरे राज्यों से आता है।

फिलहाल प्याज नासिक एवं बंगाल से आ रहा है। हालांकि बंगाल का प्याज कच्चा होने के कारण मांग कम है। प्याज की कीमत अभी -:थोक बाजार में 700 रुपये प्रति क्विंटलखुदरा बाजार में 12-14 रुपये किलोपिछले साल की कीमत -:थोक बाजार में 800 रुपये प्रति क्विंटलखुदरा बाजार में 13-14 रुपये प्रतिकिलोइस साल फसल ठीक होने के कारण प्याज का भाव ठीक है। उम्मीद की जा रही है कि प्याज की कीमत लगभग स्थिर रहेगा। हो सकता है कि होली के एक-दो रोज पहले प्रति क्विंटल 50 से 100 रुपये की बढ़ोतरी हो सकती है। बंगाल से भी प्याज आना शुरू हो गया है। होली के बाद भाव में और गिरावट होगी।उदय कांत प्रसाद, थोक मंडी, मीठापुर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्याज हुई सस्ती, पर लोगों को नहीं मिल रहा लाभ