DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पल-पल रंग बदलता कोहरा बना मुसीबत

अतिथि संपादक शाहरुख खान की पसंद
कारण: जाड़े में कोहरा उत्तर भारत की रफ्तार रोक देता है। पूरी जानकारी के साथ इसे लें।

कोहरा सचमुच पल-पल रंग बदल रहा है। इसलिए कहीं आना-जाना हो तो जरा हिसाब से। सिर्फ यह नहीं कि ट्रेन या उड़ान कभी भी रद्द हो सकती है या लॉन्ग ड्राइव पर जाने में दिक्कत होगी। शहर या आसपास काम-काज के लिए निकले लोग भी लोग कम नहीं झेल रहे।

वैसे तो देर रात या सुबह के समय ही कोहरा ज्यादा परेशान करता है लेकिन पिछले 48 घंटों के दौरान इसने जो लुकाछिपी खेली, उसे देखकर तो यही कहा जा सकता है कि किसी भी वक्त इससे पाला पड़ सकता है। जैसे सोमवार सुबह साढ़े सात बजे के करीब कोहरे के कारण दृश्यता 100 मीटर थी लेकिन आठ बजते-बजते यह 75 मीटर पर आ गई। इसी तरह सुबह 10 बजे दृश्यता 400 मीटर थी जो दिन में कई बार घटती बढ़ती रही और दोपहर करीब डेढ़ बजे 600 मीटर के आसपास रही। दोपहर ढाई बजे दृश्यता बढ़कर 1500 मीटर हो गई लेकिन अगले ही एक घंटे में दृश्यता घटकर 600 मीटर पहुंच गई थी।

दिल्ली में सुबह आठ से साढ़े आठ बजे के बीच दृश्यता 50 मीटर तक थी तो नोएडा और फरीदाबाद में इसी समय दृश्यता 24 मीटर के आसपास थी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पल-पल रंग बदलता कोहरा बना मुसीबत