DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिल्डर ने फाइनेंस कंपनी को लगाया दो करोड़ का चूना

नोएडा। कार्यालय संवाददाता। एक बिल्डर के खिलाफ धोखाधड़ी से दो करोड़ रुपये फाइनेंस कराने का मामला प्रकाश में आया है। सेक्टर-20 पुलिस ने इस बाबत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक दिल्ली के जनक पुरी में अजय ग्रेवाल एक फाइनेंस कंपनी में लीगल मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं।

वर्ष 2010 में कंपनी से असित मित्तल, महिम मित्तल, जितेन्द्र और सचिन नामक लोगों ने मुलाकात की। आरोप है कि असित ने खुद को बिल्डर बताकर फ्लैट बनाकर बेचने का जिक्र किया था। उसने फाइनेंस कंपनी को बताया था कि वे प्लॉट खरीदने वाले लोगों को विभिन्न जगह से फाइनेंस कराते हैं। ऐसे में वर्ष 2010 जून से सितम्बर माह के बीच बिल्डर ने करीब नौ लोगों को कंपनी से फाइनेंस करवा दिया। गारंटी के तौर पर फ्लैट की सेल डीड और अलॉटमेंट लेटर फाइनेंस कंपनी की देखरेख में रखवाने की बात कही गई थी। फाइनेंस कराई गई रकम एक सहकारी समिति के खाते में डलवा ली गई। इस तरह करीब दो करोड़ रुपये का फाइनेंस करवा लिया गया। लेकिन बाद में फाइनेंस कंपनी को मालूम हुआ कि हेराफेरी कर फाइनेंस कंपनी से रकम ली गई है। इस बाबत कंपनी की ओर से बिल्डर व उसके सहयोगियों के खिलाफ पुलिस से शिकायत की गई। इस संबंध में डीएसपी ब्रजेश सिंह ने बताया कि फाइनेंस कंपनी से हेराफेरी कर कुछ ग्राहकों के नाम पर रकम फाइनेंस कराई गई है। इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच शुरू हो गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिल्डर ने फाइनेंस कंपनी को लगाया दो करोड़ का चूना