DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फ्लायर पेज 7

मेनबच्चों की शिक्षा और कन्याओं की शादी के लिए बढ़े हाथनववर्ष के जश्न में अश्लील कार्यक्रमों से बचने को व्यापारी संगठनों से अपील बरेली। कार्यालय संवाददाता हर साल नए साल के जश्न में बरेली के व्यापारी संगठन लाखों रुपए उड़ा देते हैं, लेकिन इस वर्ष ऐसा नहीं होगा। व्यापारी संगठन नए साल की खुशी अनोखे अंदाज में मनाएंगे। जश्न में खर्च होने वाले रुपए को गरीब बच्चों की शिक्षा और कन्याओं के विवाह में खर्च करने का संकल्प लेंगे। व्यापारी नेताओं ने जश्न में खर्च होने वाले रुपए की रूपरेखा बनानी शुरू कर दी है। इस वर्ष गरीबों के साथ हर्षोल्लास से नववर्ष की खुशियां मनाएंगे। फोटो- राजेंद्र गुप्ताहोटलों में नहीं, गरीबों के साथ मनाओ जश्न व्यापार मंडल की युवा इकाई के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र गुप्ता का कहना है कि उनके संगठन से जुड़े व्यापारी इस साल होटलों में नए साल का जश्न नहीं मनाएंगे, बल्कि गरीबों के साथ नए साल की खुशी मनाएंगे। गरीबों को मिठाइयां, कपड़े, अनाज और कंबल बांटेंगे। संगठन में सदस्य 5,000 जश्न में खर्च का आंकड़ा 10,00,000 रुपए लगभग फोटो-खुले आसमां के नीचे मनाएंगे जश्न पश्चिमी उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के महानगर अध्यक्ष रामकृष्ण शुक्ला का कहना है कि उनके संगठन के पदाधिकारी और सदस्य खुले आसमां के नीचे नए साल की खुशियां मनाएंगे। शहर के विभिन्न इलाकों में अलाव लगाकर गरीबों के साथ झूमेंगे, नाचेंगे, गाएंगे और मिठाइयां बांटेंगे। उन लोगों के साथ जश्न मनाएंगे, जो धन के अभाव में खुशियां मनाने से वंचित रह जाते हैं। संगठन में सदस्य 2,000जश्न में खर्च का आंकड़ा5,00,000 रुपए लगभगफोटो-नारी निकेतन में बांटेंगे कंबलपंजाबी महासभा युवा इकाई के अध्यक्ष मनोज अरोरा का कहना है कि उनका संगठन नए साल की खुशियां नारी निकतेन में मनाएगा। कंबल और मिठाइयां बांटेंगे। उन्होंने अपने संगठन के पदाधिकारियों और सदस्यों से अपील की कि नए साल में फिजूल खर्च न करें, बल्कि गरीबों को कपड़े, मिठाई औरकंबल बांटने में सहयोग करें। संगठन में सदस्य 150 जश्न में खर्च का आंकड़ा1,50,000 रुपए लगभगबांटेंगे कपड़े और भोजन कराएंगेउद्योग व्यापार संगठन के महानगरअध्यक्ष विशाल महरोत्रा के नेतृत्व में बैठक हुई, जिसमें संगठन सेजुड़े व्यापारियों ने निर्णय लिया कि वे 30 दिसंबर को नए साल की खुशी नारी निकतेन में मनाएंगे। संवासनियों को कपड़े, भोजन और मिठाइयां बांटी जाएंगी। इस कार्यक्रम में एडीएम सिटी भी मौजूद रहेंगे। बैठक में जिला अध्यक्ष गोपेश अग्रवाल, शितेश, मनोज अरोरा और महेश अग्रवाल आदि थे।संगठन में सदस्य 1,000जश्न में खर्च का आंकड़ा4,00,000 रुपए लगभग अपीलजश्न में धूमिल न होने दें छवि शहर के सभी व्यापारी संगठनों के पदाधिकारियों ने अपने-अपने संगठन के सदस्यों से अपील की है कि नए साल का जश्न समझदारी के साथ मनाएं। कुछ ऐसा न करें, जिससे खुद की और संगठन की समाज में छवि धूमिल हो। नए साल की खुशी में रुपए उड़ाने से अच्छा होगा, गरीब बच्चों की शिक्षा और कन्याओं के विवाह में खर्च करें। गरीबों को कपड़े, मिठाई और भोजन बांटें। उन गरीबों के साथ जश्न मनाओ, जो धन के अभाव की वजह से खुशियां मनाने से रह जाते हैं। व्यापारी एक बात का विशेष ध्यान रखें कि नए साल के जश्न में अश्लील कार्यक्रमों में शामिल होने से बचें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फ्लायर पेज 7