DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिल पास न होने पर एक जनवरी से जेल भरो

 निज संवाददाता चन्दौली। अन्ना हजारे जन लोकपाल बिल को लेकर केन्द्र सरकार से आरपार की लड़ाई लड़ने के लिए कमर कस चुके हैं। उनको हर वर्ग का समर्थन मिले, इसके लिए लोगों को जागरूक करने के लिए टीम अन्ना के प्रदेश प्रभारी संजय सिंह रविवार को यहां आये। यूनियन बैंक के पास इंडिया अंगेस्ट करेप्शन के कैम्प कार्यालय में उन्होने कहा कि अगर जनलोकपाल बिल पास हो जाता है तब इसके लिए हमलोग सभी सांसदों को धन्यवाद देंगे। ऐसा न होने पर अन्ना हजारे 27 दिसंबर से अनशन शुरू करेंगे।

इसके बाद देश के प्रत्येक जिले में एक जनवरी से जेल भरो आन्दोलन चलेगा।सिंह ने कहा कि भ्रष्टाचार से शहर और गांव में रहने वाले लोग परेशान हैं। कचहरी से खेत का कागज पाना हो, पिता की वरासत करानी है या लाइसेंस पाना हो-सबके लिए रिश्वत देनी पड़ती है।

अब तो जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र पाने के लिए भी घूस देनी पड़ती है। दस बडेम् पूंजीपतियों के पास देश के बजट कुछ हिस्से के बराबर संपत्ति है। उन्होने कहा कि सरकार में बैठे लोग जनलोकपाल बिल पास करने के बजाय सीबीआई को मजबूत करने की बात करते हैं। यह वही सीबीआई है जिसने 64 करोड़ रुपये के बोफोर्स घोटाले की जांच करने में 250 करोड़ रुपये खर्च कर दिया। करीब 15 साल तक चली जांच-पड़ताल में परिणाम कुछ नहीं आया।

भ्रष्टाचार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में मजबूत जनलोकपाल बिल जरूरी है। इसके पहले टीम अन्ना के प्रदेश प्रभारी को जनपद के इंडिया अगेंस्ट करप्शन के सदस्य संतोष कुमार ने अंगवस्त्रम भेंट किया। डा. शैलेश ने उन्हें स्मृति चिह्न् के रूप में संकटमोचन की प्रतिमा प्रदान की।

इस दौरान जयशंकर पांडेय, अशोक सिंह, कैप्टन एसएन गुप्ता, भागवत नारायण चौरसिया, फेकन प्रसाद मौर्य, हौसिला यादव, डा. शंकर सिंह, जेपी उपाध्याय, नरेंद्र सिंह, शिक्षक संजय सिंह, दीना सिंह, हरिश्चंद्र, सुरेश कुमार, अजय सिंह, आशीष सिंह एड., मनीष सिंह सहित अनेक लोग उपस्थित रहे। अध्यक्षता बीआर चौधरी और संचालन सूर्यनाथ सिंह ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिल पास न होने पर एक जनवरी से जेल भरो