DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकपाल विधेयक पर अंतिम फैसला संसद का होगा: आडवाणी

भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी ने कहा है कि यद्यपि टीम अन्ना को लोकपाल विधेयक के विभिन्न पहलुओं पर अपनी असहमति जताने का अधिकार है लेकिन कानून पारित करने का अंतिम फैसला संसद के पास रहेगा।

आडवाणी ने संवाददाताओं से कहा कि इस में कोई दो राय नहीं है कि यह संसद है जो अंतिम विधेयक पर फैसला करेगी, और कोई नहीं। संसद को अब फैसला करना है कि लोकपाल विधेयक को कैसा रूप देना है। उन्होंने जोर दिया कि भाजपा एक मजबूत और कारगर लोकपाल चाहती है और संसद में इस मामले पर पूरा सहयोग देने की इच्छुक है।

उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से (भाजपा और राजग की तरफ से) विधेयक को पारित कराने का पूरा प्रयास किया जाएगा। यह प्रयास यहां तक की संयुक्त समिति में और प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी द्वारा बुलाई गई बैठक में भी था।

आडवाणी ने कहा कि भाजपा ने सर्वदलीय बैठक में साफ तौर पर अपनी राय प्रकट की कि लोकपाल विधेयक किस तरह का होना चाहिए। आडवाणी ने दावा किया कि टीम अन्ना ने भाजपा नेतृत्व के साथ जन लोकपाल विधेयक पर चर्चा की थी और उसने इसमें तीन-चार कमियां बताई थीं।

उन्होंने कहा कि हमारे साथ विधेयक पर चर्चा करने के बाद यहां तक कि वे इसमें बदलाव करने पर भी सहमत हो गए थे। मैं नहीं जानता कि उनमें से कितने पर वे हमसे सहमत हैं और कितने पर वे अब तक अडिग हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लोकपाल विधेयक पर अंतिम फैसला संसद का होगा: आडवाणी