DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर तूती बोली है भारतीय स्पिनरों की

आस्ट्रेलिया पिचों को भले ही तेज गेंदबाजों के अनुकूल माना जाता हो और भारत का भरोसा भी आगामी श्रृंखला में तेज गेंदबाजों पर अधिक रहे, लेकिन आंकड़े बताते हैं कि आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर भारतीय स्पिनरों का भी अच्छा खासा दबदबा रहा है।

चाहे वह बिशन सिंह बेदी, भगवत चंद्रशेखर और ईरापल्ली प्रसन्ना की स्पिन तिकड़ी हों या फिर अनिल कुंबले, भारतीय स्पिनरों ने लगभग हर श्रृंखला में आस्ट्रेलियाई धरती पर अपनी विशेष छाप छोड़ी है और इस लिहाज से वर्तमान दौरे में रविचंद्रन अश्विन और प्रज्ञान ओक्षा पर काफी दारोमदार होगा।

भारत ने 1947-48 में पहली बार आस्ट्रेलिया दौरा किया। तब से लेकर 2007-08 भारत ने आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर जो 36 टेस्ट मैच खेले उनमें उसने तेज और मध्यम गति के 28 गेंदबाजों को आजमाया जिनमें से 23 गेंदबाज विकेट लेने में सफल रहे। इन गेंदबाजों के नाम पर अब तक कुल 266 विकेट दर्ज हैं। कपिल देव ने आस्ट्रेलिया में 11 मैच खेलकर सर्वाधिक 51 विकेट लिये हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर तूती बोली है भारतीय स्पिनरों की